जनसुनवाई में 108 शिकायत प्राप्त,डीएम ने त्वरित निस्तारण के दिए आदेश

0
63

देहरादून 08 जुलाई । जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका की अध्यक्षता में ऋषिपर्णा सभागार में जनसुनवाई का आयोजन किया गया। जनसुनवाई में आज 108 शिकायत प्राप्त हुई। जनसुनवाई में अधिकतर शिकायत भूमि विवाद, अतिक्रमण, आपसी विवाद, सिंचाईं गुल बंद करने, भूमि संबंधी धोखाधड़ी, समाज कल्याण विधावस्था पैंशन लगवाने, कॉलेज के समीप ठेका खिलवाने, घरों के समीप टेलीकॉम टावर लगवाने, भरण पोषण आदि शिकायत प्राप्त हुई।
जिलाधिकारी ने समस्त तहसीलदार, कानूनगो को निर्देशित किया कि भूमि संबंधी शिकायतों पर पटवारी की आख्या के उपरांत स्वयं निरीक्षण कर वस्तुस्थिति से अवगत होते हुए आख्या दे।
जनसुनवाई में एक शिकायतकर्ता महिला द्वारा शिकायत में अवगत कराया कि उनको अन्य भूमि के अभिलेख दिखाकर नगर निगम की भूमि पर कब्जा दे दिया, इसी प्रकार एक अन्य प्रकरण में नगर निगम क्षेत्र में भूमि विक्रय करने की बात बोलकर रकम ले ली, भूमि नही दी जा रही है, जिलाधिकारी ने नगर निगम तथा राजस्व के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सरकारी भूमि को खुर्दबुर्द्ध किए जाने वालों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की जाए।
रायपुर में घनी आबादी वाले क्षेत्र में छत पर टावर लगाने की शिकायत पर एमडीडीए को मानक के अनुरूप कार्यवाई करने के निर्देश दिए। बालावाला में भगवानदास कालेज के समीप सिंचाई गुल बंद करने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने तहसीलदार सदर को मौके पर जाकर सिंचाई गुल खुलवाने हेतु कार्यवाही के निर्देश दिए। वहीं एक शिकायतकर्ता ने अपनी शिकायत में बताया कि उनकी भूमि मंगत ग्राम में जिस पर भूमाफिया द्वारा अवैध प्लाटिंग की जा रही है, जिस पर उप जिलाधिकारी विकासनगर को कार्यवाही के निर्देश दिए। एक शिकायतकर्ता द्वारा शिकायत की गई कि एक व्यक्ति द्वारा पूर्व में उनको विक्रय की गई भूमि को अन्य व्यक्तियों को भी विक्रय किया गया, जिसका जानकारी उनको बाद में लगी, इस जिलाधिकारी ने तहसीलदार सदर को संबंधित के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने के निर्देश दिए। लाखामंडल में किए गए विद्युत विभाग के कार्यों में धन का दुरुपयोग होने की शिकायत पर अधि अभि विद्युत चकराता को जांच के निर्देश दिए। बुजुर्ग महिलाओं ने पुत्र की मृत्यु के उपरांत पुत्र वधू द्वारा घर से निकाल दिया गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने उक्त प्रकरण पर भरण पोषण के तहत कार्रवाई के निर्देश दिए।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी सुश्री झरना कमठान, अपर जिलाधिकारी प्रशासन जयभारत सिंह, अपर मुख्य नगर आयुक्त नगर निगम बीर सिंह बुदियाल, पुलिस अधीक्षक यातायात मुकेश कुमार, उप जिलाधिकारी सदर हर गिरि, उप जिलाधिकारी मुख्यालय शालिनी नेगी, निदेशक ग्राम्य विकास अभिकरण विक्रम सिंह, विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी स्मृति परमार, जिला विकास अधिकारी सुनील कुमार, जिला पंचायतीराज अधिकारी विद्या सिंह सोमनाल, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ विद्याधर कापड़ी, महाप्रबन्धक जिला उद्योग केन्द्र अंजली रावत, जिला समाज कल्याण अधिकारी पूनम चमोली सहित विद्युत, एमडीडीए, सिंचाई, लोनिवि सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।