खुलासाः दादी की हत्या में साजिशकर्ता पोती व उसका दोस्त गिरफ्तार

0
112

हरिद्वार 16 मई ।दिन दहाड़े घर में घुसकर हुई बुजुर्ग महिला की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने मृतका की पोती व एक बीबीए के छात्र को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त हथौड़ा व स्कूटी बरामद किया गया है। बुजुर्ग महिला की हत्या का षडयंत्र उसकी पोती ने रचा था जबकि हत्या की घटना को अंजाम बीबीए के छात्र द्वारा दिया गया था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रमेन्द्र डोबाल ने बताया कि गंगा सप्तमी के पर्व पर ज्वालापुर क्षेत्रान्तर्गत चाकलान मोहल्ले में दिनदहाड़े बुजुर्ग महिला की हत्या की सूचना पर ज्वालापुर पुलिस मौके पर पहुंची। जानकारी करने पर पता चला कि पेशे से तीर्थ पुरोहित अनुराग शर्मा गंगा सप्तमी के अवसर पर 14 मई को अपने परिवारजनो के साथ पूजा अर्चना के लिए हर की पैड़ी गए हुए थे तथा उनकी बुजुर्ग मां घर पर अकेली थीं। दोपहर के समय चीख पुकार की आवाज सुन पड़ोसी मौके पर पहुंचे तो उन्होंने बुजुर्ग महिला को लहुलुहान हालत में खून से सने फर्श में पाया।
दिनदहाड़े घर में घुसकर बुजुर्ग महिला की हत्या को लेकर स्थानीय लोगों में रोष व्याप्त हो गया। मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जंाच शुरू कर दी गयी। जांच के दौरान सीसी कैमरे खंगालने पर पुलिस को पता चला कि घटना के दिन एक संदिग्ध युवक बीबीए का छात्र उदित झा उक्त मकान में आया था। जिस पर पुलिस ने उससे पूछताछ की तो उसने हत्या की बात कबूलते हुए पूरे घटनाक्रम और हत्या की वजह सहित इसमें शामिल सभी किरदारों से पर्दा उठा दिया। उसने पूछताछ में बताया कि मृतका की पोती भूमिका (काल्पनिक नाम) का अनुराग के साथ व उदित झा का कनखल निवासी आयशा (काल्पनिक नाम) के साथ अफेयर है। भूमिका और आयशा एवं उदित झा और अनुराग भी आपस में दोस्त हैं। आयशा और उदित झा के प्राइवेट फोटो/वीडियो मृतका की पोती भूमिका के पास थी। भूमिका अपने ब्वायफ्रेंड अनुराग को समय-समय पर घर से चोरी करके काफी पैसे देती रहती थी जबकि अनुराग लोकल स्तर पर मात्र 10 से 15 हजार रुपए के बीच की नौकरी करता था। घर से धीरे-धीरे लगातार पैसे गायब होने पर मृतका अर्चना ने पैसे छुपाने शुरू कर दिए और जल्द ही वह समझ गई कि उसकी पोती भूमिका ही ऐसा करती है। इससे परेशान होकर भूमिका ने अपनी दादी को अपने रास्ते से हटाने का प्लान बनाया और उदित झा को धमकी दी कि तू मेरी दादी को रास्ते से हटा दे वरना तेरी प्राइवेट वीडियो को वायरल कर दिया जाएगा। योजना बनी कि जब घर के सभी लोग घर से बाहर चले जाएं तो युवक घर जाकर दादी का काम तमाम कर दे।
इस पर 14 मई गंगा सप्तमी के दिन मृतका बुजुर्ग महिला अर्चना के घर के सभी सदस्य गंगा स्नानध्पूजन हेतु हरिद्वार चले गए तो भूमिका द्वारा उदित झा को अपने घर की सारी जानकारी उपलब्ध करवाकर सूचना दी गई कि आज हमारे घर पर जाकर मेरी दादी को रास्ते से हटा दो। जिस पर आरोपी उदित झा ने अंसारी मार्केट से हथौड़ा खरीदा और अपनी स्कूटी से घटना स्थल के सपीप पहुंचा और सीसी कैमरों से बचता हुआ मृतका के घर पर आया। जहंा उसने मृतका पर हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। पुलिस ने उसकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त हथौड़ा, स्कूटी व अन्य सामान बरामद किये गये है।