बद्रीनाथ धाम में टप्पेबाजी करने वाले गैंग के 8 सदस्य गिरफ्तार

0
103

लाखों की नगदी व कई मोबाइल बरामद

चमोली 16 मई ।श्री बद्रीनाथ धाम में श्रद्धालुओं का ध्यान भटका कर टप्पेबाजी की घटनाएं करने वाले अंतर्राज्यीय गैंग का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने गैंग के आठ सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। जिनके कब्जे से एक लाख 55 हजार रुपए की नगदी व 7 मोबाइल फोन भी बरामद किये गये है।
जानकारी के अनुसार बीते रोज थाना बद्रीनाथ पुलिस को सूचना मिली कि टप्पेबाज गिरोह के कुछ लोग धाम में यात्रियों के साथ टप्पेबाजी करते हुए उनका सामान उड़ा रहे है। सूचना पर कार्यवाही करते हुए पुलिस ने सादे कपड़ों में आम यात्री बनकर तप्त कुण्ड में गस्त लगानी शुरू कर दी। जिसके बाद पुलिस ने इस गैंग के 8 सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया गया। जिन्होने पूछताछ मे बताया कि वह सभी गोण्डा (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले है। गैंग को मुख्य रूप से दलीप और मुरली नाम के व्यक्ति चलाते है। बताया कि हम सभी लोग देश के अलग-अलग स्थानों पर धार्मिक यात्राओं के शुरू होने पर गिरोह बनाकर उक्त स्थानों पर पहुँच जाते है और फिर आस-पास की धर्मशालाओं या अन्य जगहों पर कमरे किराए पर लेकर रहने लगते हैं। इस दौरान सभी लोग व भीड़-भाड़ वाले स्थानों पर घूमते रहते हैं,वही मौका देखकर स्नान करने अथवा दर्शन करने वाले यात्रियों/श्रद्धालुओं का ध्यान भटका कर उनके द्वारा घाट किनारे रखे गए पैसे, मोबाइल फोन, घड़ियां व अन्य कीमती सामान को चोरी कर लेते हैं। चोरी किये गए सामान को एकत्रित करने के बाद उसे आपस में बांट कर अपने अपने गांव वापस चले जाते हैं। गिरफ्तार लोगों के नाम दलीप कुमार पुत्र मंगीलाल निवासी ग्राम छजवा थाना मोतीगंज तहसील गोण्डा उत्तर प्रदेश, मुरली पुत्र नन्नकू ग्राम पनकसीया थाना मोतीगंज तहसील मनकापुर गोण्डा उत्तरप्रदेश, भगवान दीन पुत्र धासु ग्राम छजवा थाना मोतीगंज तहसील बजिया गोण्डा, धुव्रनारायण पुत्र रामप्रसाद निवासी वेनपुर थाना मनकापुर तहसील व जिला गोण्डा उ.प्र., चिन्तामणी पुत्र रामदेव निवासी ग्राम बेलीपुर थाना मनका गोण्डा उ.प्र., जैकी पुत्र रामकिशन निवासी ग्राम वेलीपुर थाना मनका जिला गोण्डा उ.प्र., देवकी नन्दन पुत्र स्व. रामकुमार निवासी ग्राम मल्लिपुर थाना मनकापुर जिला गोण्डा उ.प्र. व धर्मेन्द्र पुत्र राजकुमार निवासी ग्राम जिगना बाजार थाना मनकपुर जिला गोण्डा उ.प्र. बताये जा रहे है। जिनके पास से टप्पेबाजी कर उड़ाये गये 1 लाख 55 हजार की नगदी व सात मोबाइल फोन भी बरामद किये गये है। बहरहाल पुलिस ने उन्हे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।