दीक्षांत समारोहः 119 आरक्षी बने सशस्त्र सीमा बल का हिस्सा

0
63

श्रीनगर 15 मई । केन्द्रीयकृत प्रशिक्षण केंद्र सशस्त्र सीमा बल श्रीनगर गढ़वाल में बुधवार को प्रथम बुनियादी प्रशिक्षण कोर्स का दीक्षांत समारोह धूम धाम से मनाया गया। इस दीक्षांत परेड में विभिन्न प्रान्तों से (उत्तर प्रदेश-49, बिहार-31, राजस्थान-31, हिमाचल प्रदेश-02, हरियाणा-02, मध्य प्रदेश-02, जम्मू एवं कश्मीर-01 पश्चिम बंगाल-01, कुल 119) आरक्षी गहन प्रशिक्षण संपन्न करके बल के सिपाही के रूप में राष्ट्र सुरक्षा का कार्य करने के लिए उपस्थित है। इस बैच में दो स्नातकोत्तर डिग्री धारक है और 92 स्नातक डिग्री धारक हैं। दीक्षांत परेड समारोह के मुख्य अतिथि छेरिंग दोरजाई, महानिरीक्षक (आसूचना) बल मुख्यालय नई दिल्ली द्वारा सर्वप्रथम शहीद स्मृति स्थल पर एस.एस.बी. के शहीद हुए जवानों को पुष्पांजलि अर्पित की। तपश्चात आरक्षी प्रशिक्षु (पुनः नियुक्ति) द्वारा मुख्य अतिथि को सलामी दी गई एवं मुख्य अतिथि द्वारा परेड का निरीक्षण किया गया।
इस अवसर पर छेरिंग दोरजाई, महानिरीक्षक, आसूचना, सशस्त्र सीमा बल, बल मुख्यालय नई दिल्ली के दिशा निर्देश में डिप्टी कमांडेंट राजन राय द्वारा प्रशिक्षुओं को राष्ट्रीय ध्वज व निशान के समक्ष संविधान को साक्षी मानकर पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई।
अपने संबोधन में उन्होंने बताया कि इन 119 आरक्षी प्रशिक्षुओं को 32 सप्ताह के गहन प्रशिक्षण की अवधि में इन्हें शारीरिक व मानसिक तौर पर क्षमता प्रदान करने के साथ-साथ इनकी सोच में सकारात्मकता की तरंगे प्रवाहित करने का सम्पूर्ण प्रयास किया गया है, जिससे बल की निरंतर बढ़ती हुई जिम्मेदारियों में यह सभी सशक्त एवं सफल सैनिक के दायित्व का सफलतापूर्वक निर्वहन कर सके।