बारिश और ओलावृष्टि का तांडव,कई पेड़ उखड़े,खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचनें की आशंका

0
110

देहरादून 30 मार्च । देहरादून में शनिवार की सुबह को करीब 5 से 6 बजे के बीच में बारिश साथ ही ओलावृष्टि और तेज हवाओं का तांडव देखने को मिला। तूफान के कारण विकासनगर में कई पेड़ उखड़ गए। वहीं खेतों में तैयार खड़ी फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है।
मौमस विभाग ने पहले ही उत्तराखंड के अधिकांश हिस्सों में 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की चेतावनी जारी की थी, जो सही साबित हुई। शनिवार सुबह को उत्तराखंड में अचानक से मौसम का मिजाज बदला और बारिश व ओलावृष्टि के साथ आंधी-तूफान आया। इस आंधी तूफान में कई घरों के ऊपर से टिनशेड उखड़ गई थी। वहीं पछुवादून क्षेत्र के कुछ इलाकों में पेड़ उखड़ कर सड़कों पर गिर गए थे। गनीमत रही है कि इस दौरान किसी भी तरह की जनहानि नहीं हुई। दूसरी ओर जौनसार बावर क्षेत्र के कुछ गांवों में ओलावृष्टि होने से फसलों को भी नुकसान होने की आशंका जताई जा रही है। आंधी तूफान की चपेट में आने से बिजली के पोल को भी नुकसान पहुंचा है, जिससे शहर की बिजली आपूर्ति भी प्रभावित हुई है।
कई स्थानों पर पेड़ों के गिरने की सूचना स्थानीय लोगों ने वन विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को दी है। सूचना पर तत्काल वन विभाग की टीम मौके पर पहुंचकर सड़क पर गिरे पेड़ों को हटाने के काम में जुट गई। वन विभाग के कर्मचारियों ने बताया कि स्थानीय लोगों ने सूचना दी थी कि आसाराम इंटर कॉलेज के पास पेड़ आंधी तूफान से गिर गया है। सूचना पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और पेड़ों को हटाने का कार्य किया।