भाजपा सरकार कर रही अंग्रेजों के जमाने की बर्बर कार्यवाहियों की याद ताजाःअनिल भास्कर

0
181

सीएम का पुतला फूँकने पर कांग्रेसी गिरफ्तार, रातभर थाने में बिठाए रखने पर विधायक रवि बहादुर भड़के

हरिद्वार। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का पुतला फुकने पर हरिद्वार में युवा कांग्रेस के पदाधिकारियों को बीते रोज गिरफ्तार कर रात भर थाने में बैठाये रखा। जिससे कांग्रेसियों में आक्रोश की लहर है। कांग्रेसी ऐसी कार्यवाहियों के भारत में अंग्रेजी हूकूमत की बर्बर कार्यवाहियों से जोडकर देख रही है।
बीते रोज प्रदेश सरकार के कार्यों के खिलाफ युवा कांग्रेस के नेता लक्ष्य चैहान के नेतृत्व में कार्यक्रम किया गया तथा चन्द्राचार्य चैक पर प्रदेश के मुख्यमंत्री का पुतला फुका। कुछ समय बाद ही ज्वालापुर कोतवाली से एक्शन हुआ और दो पदाधिकारी लक्ष्य चैहान और नितिन सौदाई को रात को ही गिरफ्तार कर ज्वालापुर थाने में बैठा लिया। इसके अतिरिक्त पुलिस कार्यक्रम में शामिल अन्य युवाओं को भी फोन कर थाने आने का दबाव बनाने लगी, जिसकी जानकारी कांग्रेस पार्टी से विधायक ज्वालापुर इंजी. रवि बहादुर को हुई तो उन्होंने अधिकारियो से बात की। यह जानकारी मिलने पर कि इन दोनों पदाधिकारियों का धारा 151 में चालान किया गया है और अन्य युवाओं को भी बुलाया गया है। जिस पर विधायक भड़क गए और अधिकारी से कहा कि वह बाहर है और रात में ही वापस आ रहे है तथा यही इन दोनों के अतिरिक्त अन्य किसी को प्रताड़ित किया गया तो वह खुद सुबह माननीय मुख्यमंत्री का पुतला जलाकर गिरफ्तारी देंगे। जिससे अधिकारी बैकफुट पर आये। शनिवार सुबह दोनों पदाधिकारियों को नगर मजिस्ट्रेट द्वारा जमानत पर छोड़ा गया। इस अवसर पर प्रदेश महासचिव अनिल भास्कर ने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में हो रहे कृत्यों ने भारत पर अंग्रेजी हूकूमत की यादें ताजा कर दी है। अंग्रेजों की तरह भाजपाई सरकार बर्बरता दिखाने से बाज नही आ रही है। 1930 के अंग्रेजो के कानून को लागू कर राज्य सरकार बता रही है कि वह सदैव अंग्रेजो के साथ रहे और आज भी उन्ही के पद चिन्हो पर चल रहे है। परन्तु अब यह चलने नहीं दिया जायेगा।
युवा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता वरुण बालियान ने कहा कि वह इस कानून के खिलाफ मुख्यमंत्री का पुतला फुकने का काम करेंगे। राज्य सरकार की तानाशाही को प्रदेश में नहीं चलने देंगे।जमानत के बाद दोनों पदाधिकारियों का स्वागत किया गया इस अवसर पर ओबीसी विभाग के विधानसभा अध्यक्ष अंकुर सैनी, इंटक के विधानसभा अध्यक्ष जगदीप असवाल, महरुफ सलमानी, जॉनी रजौर, गौतम, मुकुल चैहान सहित अन्य युवा उपस्थित थे।