तीसरी लहर तय कोरोना का क्यों नहीं भय , कोरोना निर्देशों का उल्लंघन नहीं लगा रहे मास्क, भीड़ के कारण जाम के हालात

0
2647
शामली। सोमवार को बाजारों में भारी भीड़ रहने से जाम की स्थिति बनी रही। दोपहर के समय भीषण गर्मी के कारण बाजारों में चहल-पहल जरूर कम रही लेकिन शाम के समय एक बार फिर बाजारों में भीड़ रहने से कोरोना गाइडलाइन का जमकर उल्लंघन किया गया। लोगों ने मास्क लगाना तक उचित नहीं समझा।
जानकारी के अनुसार शनिवार व रविवार को वीकेंड लाॅकडाउन के बाद सोमवार को बाजारों के खुलते ही लोगों की अच्छी खासी भीड़ उमड़ पड़ी। बाजारों में भीड़ के कारण जाम के हालात बने रहे। दुकानों पर भी लोग खरीददारी के लिए जुटे रहे, किसी ने भी मास्क लगाना उचित नहीं समझा, सोशल डिस्टेंस का भी जमकर उल्लंघन किया गया। हालांकि दोपहर के समय भीषण गर्मी के चलते बाजारों में भीड़-भाड़ कम रही लेकिन शाम के समय एक बार फिर बाजारों में भीड़ के कारण जाम के हालात बने रहे। सुभाष चौंक, गांधी चौंक, बडा बाजार, नेहरु मार्किट, रेलवे रोड, धीमानपुरा, माजरा रोड पर भीड़ लगी रही। जनपद में कोरोना के केस मात्र दो ही रह गए हैं लेकिन लोगों को जब तक एक भी कोरोना केस हैं तब तक सावधानी बरतनी होगी। लेकिन लोग अभी भी कोरोना के खतरे को समझने को तैयार नही है। बाजारों में आने वाले अधिकांश लोग बिना मास्क लगाए पहुंच जाते हैं जिससे संक्रमण का खतरा एक बार फिर बढ़ गया है। लोगों की समंझ में क्यों नहीं आ रहा है कि कोरोना की तीसरी लहर बहुत करीब हैं जनपद शामली को इससे बड़ा खतरा है जनपद की डीएम जसजीत कौर व एसपी सुकीर्ति माधव कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए रात दिन तैयारी में लगे हुए हैं। पहले पुलिस प्रशासन द्वारा मास्क न लगाने वाले लोगों के खिलाफ अभियान चलाती रहती थी लेकिन जब से कोरोना के केस कम हुए हैं पुलिस ने भी सख्ती करना छोड़ दिया है जिसका परिणाम यह है कि लोग बिना मास्क लगाए धडल्ले से शहर में घूमते रहते हैं जबकि प्रशासन लगातार लोगों से सावधानी बरतने की अपील कर रहा है। जिलाधिकारी महोदया व एसपी सुकीर्ति माधव अविलंब कठोरता के साथ कोरोना निर्देशों का पालन कराने के निर्देश पुलिस को दें। समय पर ही कठोर कदम उठाने की आवश्यकता हैं।
रिर्पोट  :- सिद्धार्थ भारद्वाज प्रभारी उत्तर प्रदेश।