“जब तक संत की कृपा नहीं होती तब तक भगवान की प्राप्ति नहीं होती”:संत प्रवर विजय कौशल

0
87

देहरादून 4 मई । महानगर के हिंदू नेशनल स्कूल में श्री राम कथा यज्ञ समिति के द्वारा उत्तराखंड देवभूमि अमृतमयी श्री राम कथा मैं कथा वाचक संत संत प्रवर श्री विजय कौशल जी महाराज के मुखारविंद से प्रभु श्री राम जी की कथा गायन छठवें दिन भी जारी रहा।
कथा में विशेष रूप से पधारे कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल विधायक विनोद चमोली महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ उमेश अग्रवाल ने महाराज श्री विजय कौशल जी से आशीर्वाद प्राप्त किया एवं कथा का श्रवण किया।
भाजपा महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ उमेश अग्रवाल ने बताया कि 28 अप्रैल से चल रही यह प्रभु श्री राम जी के मर्यादा की कथा चित्रण का दर्शन जिस प्रकार हो रहा है वह आज महानगर के सम्मानित जनता को प्रभु श्री राम जी की वास्तविकता चित्रण का अनुभव किया जा रहा है ऐसी कथा के माध्यम से हमे महाराज जी के द्वारा बताया गया कि जब तक संत की कृपा नहीं होती है तब तक भगवत की प्राप्ति नहीं होती है बड़ा दुर्गुण दिखाई देता है कुछ दोष हमारे गर्भ में पड़े रहते हैं वर्तमान यदि कोई दुर्गुण हो तो उसे समाप्त कर देना चाहिए भविष्य के लिए कदाचित नहीं छोड़ना चाहिए जितने सद्गुण एक सामान्य व्यक्ति में होते हैं उतने ही दुर्गुणों तत्पुरुषों में भी होता है परंतु सत्पुरुष उसे अपने सत्संग साधना के माध्यम से दूर कर लेता है दुर्गुनी व्यक्ति भी साधु संगत से सत्गुनी बन जाता है।
राम कथा यज्ञ समिति के अध्यक्ष राकेश अग्रवाल कार्यकारी अध्यक्ष अश्वनी अग्रवाल प्रमोद मित्तल गोविंद मोहन विवेक गोयल अनुज अग्रवाल उमा नरेश तिवारी प्रदीप कुमार अक्षत जैन नीरज गोयल अमरकांत गर्ग आदि समिति के कार्यकर्ता एवं दूर-दूर से आए सम्मानित श्रोता उपस्थित रहे।