हिडन एजेंडे की पोल खुलने से बौखलायी कांग्रेस: चौहान

0
42

किसी राजनैतिक परिवार का योगदान नही देता मंगल सूत्र छीनने की इजाजत

देहरादून 4 मई। भाजपा ने कहा कि पीएम मोदी द्वारा कांग्रेस के हिडन एजेंडे की पोल खोलने से कांग्रेस बौखला गयी है और हताशा मे आरोप प्रत्यारोप की राजनीति कर रही है। किसी राजनैतिक परिवार का योगदान किसी के मंगल सूत्र छीनने का आधार नही हो सकता है।
प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने पूर्व सीएम हरीश रावत की सोशल मीडिया पोस्ट पर पलटवार कर कहा कि राहुल एवं कांग्रेस की नीतियों का पाक नेताओं द्वारा समर्थन और चीन से उनकी चंदा डिप्लोमेसी का देश गवाह रहा है। किसी राजनैतिक परिवार का योगदान उनकी पीढ़ियों को मातृशक्ति के मंगलसूत्र छीनने की इजाजत नही देता है ।
पूर्व सीएम की सोशल मीडिया पोस्ट पर पूछें गए सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 60 साल खुलकर तुष्टिकरण की नीति को आगे बढ़ाया है । यही वजह है कि जब देश सनातन संस्कृति को लेकर जागरूक हो गया है तो कांग्रेस ने न्याय पत्र की आड़ में इसे हिडन ऐजेंडे की शकल देने का प्रयास किया । इसी हिडन ऐजेंडे की पोल पीएम मोदी ने खोल दी है और तब से कांग्रेस के सभी छोटे बड़े नेता बौखलाए हुए हैं। पूर्व सीएम हरीश रावत की पोस्ट भी उसकी एक कड़ी है, जिसमे वे पाकिस्तान को चुनाव में लाने की बात तो करते हैं लेकिन भूल जाते हैं कि तारीफ तो राहुल गांधी के सनातन विरोधी बयानों की पाक नेता कर कर रहे हैं । ऐसा नहीं है कि यह पहला वाकया हो, इससे पहले प्रत्येक इस मुद्दे पर चाहे वह भारतीय संस्कृति से जुड़ा विषय हो या देश की सुरक्षा से जुड़ा अथवा धार्मिक समानता की बात हो। हर मुद्दे पर कांग्रेस नेताओं की नकारात्मक टिप्पणियों को पाकिस्तान की तरफ से समर्थन मिला है । स्वयं कांग्रेस के नेता वहां जाकर मोदी जी को हटाने के लिए सार्वजनिक रूप से सहयोग मांगते रहे हैं और जहां तक चीन का सवाल है तो दोनो देशों में तनाव के दौरान, राहुल गांधी और कांग्रेस नेताओं को चीनी दूतावास में डिनर डिप्लोमेसी करते सभी ने देखा है।

उन्होंने मंगल सूत्र को लेकर पूर्व सीएम के आरोप पर पलटवार कर कहा कि 1962 की लड़ाई में उनके नेता द्वारा गहने देने से और उन्ही के परिजनों को देश की मातृ शक्ति से मंगल सूत्र छीनने वाली नीति बनाने और उसे लागू करने की इजाजत नहीं दी जा सकती है । उन्हें स्पष्ट कहना चाहिए कि वे अपने घोषणा पत्र के अनुसार सामाजिक आर्थिक सर्व नहीं करेंगे और एससी एसटी औरओबीसी समेत पिछड़े वर्गों का आरक्षण धर्म के आधार पर मुसलमानों को नहीं देंगे। देश के संसाधनों पर पहला हक मुस्लिम समुदाय का नहीं देंगे। लेकिन कांग्रेस पार्टी का कोई भी नेता ऐसा नहीं कह सकता है, क्योंकि वे सभी जानते हैं कि मोदी जी ने जो भी कांग्रेसी घोषणा पत्र और एजेंडे को लेकर कहा है, वह शत प्रतिशत सत्य है। लेकिन आज कांग्रेस का इससे भी अधिक दुर्भाग्य यह है कि देश की जनता उनकी इस सनातन एवं राष्ट्रविरोधी मंशा को पह्चान चुकी है ।