शराब तस्करी का विरोध करने पर हुई थी युवक की हत्या, एक गिरफ्तार

0
86

चम्पावत 29 मार्च। होली पर्व के दौरान गला घोटकर हुई युवक की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक शराब तस्कर को गिरफ्तार कर लिया है। जिसके कब्जे से हत्या में प्रयुक्त मफलर भी बरामद किया गया है। हत्या का कारण शराब तस्करी का विरोध करना बताया जा रहा है।
मिली जानकारी के अनुसार बीती 27 मार्च को थाना पाटी पुलिस को सूचना मिली कि ग्राम मंगललेख में एक व्यक्ति का शव पड़ा हुआ है। सूचना मिलने पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच की तो उस शव की पहचान ग्राम मंगललेख निवासी पान सिंह बिष्ट पुत्र कैलाश सिंह बिष्ट, उम्र लगभग 25 वर्ष के रूप में हुई। जिसके गले पर कुछ निशान पाये गये थे। मामले में कुन्दन सिंह पुत्र गंगा सिह निवासी ग्राम मंगललेख ने थाना पाटी में मुकदमा दर्ज कराया कि उनके भतीजे मृतक पान सिंह की हत्या 26 मार्च की रात भगवान सिंह पुत्र मदन सिह तथा कृष्ण सिंह पुत्र मदन सिंह, निवासी ग्राम मंगललेख, थाना पाटी द्वारा की गयी है। मामले में कार्यवाही करते हुए पुलिस ने बीती रात संदिग्ध भगवान सिंह पुत्र मदन सिंह निवासी ग्राम मंगललेख से पूछताछ की गयी तो उसने बताया कि उसने ही मृतक पान सिंह की 26 मार्च की रात मफलर से गला घोटकर हत्या की गयी है। जिसकी निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त मफलर उसके घर से बरामद कर लिया। हत्या किये जाने का कारण पूछने पर आरोपी भगवान सिंह ने बताया कि वह ग्राम मंगललेख में अवैध शराब का कारोबार करता है। जिसके खिलाफ पूर्व में भी कई मुकदमें दर्ज है। जिसका विरोध मृतक पान सिंह व उसका भाई प्रमोद पूर्व से ही करते रहते थे। जिस कारण मैं उनसे रंजिश रखने लगा जिस कारण उनमें रंजिश रहने लगी। घटना के दिन भी मृतक पान सिंह व हत्यारोपी भगवान सिंह द्वारा देर रात तक साथ में शराब पी गयी । इसी दौरान इनका शराब बेचने को लेकर बहस शुरू हो गयी । धीरेकृधीरे बहस इतनी बड़ गयी की भगवान सिंह द्वारा मृतक पान सिंह को गला घोटकर हत्या कर दी गयी। पुलिस ने आरोपी को न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया है।