केजरीवाल की गिरफ्तारी पर विपक्षी दलों का रुख चोरी और सीनाजोरी जैसा:भट्ट

0
48

देहरादून 22 मार्च। भाजपा ने केजरीवाल की गिरफ्तारी पर विपक्ष के रवैए को चोर मचाए शोर करार दिया। प्रदेश अध्यक्ष श्री महेंद्र भट्ट ने खाते फ्रीज करने के आरोपों पर पलटवार कर कहा, खाता नहीं कांग्रेस की सोच और विचारधारा फ्रीज हो गई है । क्योंकि इनकम टैक्स ने तो सिर्फ न्यूनतम बैलेंस बनाए रखने के आदेश दिए है। हार सामने देख, विपक्ष बहाने तलाशने लगा है।
हरिद्वार रोड,रिस्पना पुल स्थित पार्टी के चुनाव मीडिया सेंटर में पत्रकारों के सवालों के जवाब देते हुए कहा,दिल्ली में मुख्यमंत्री केजरीवाल की गिरफ्तारी पर विपक्षी दलों का रुख चोरी और सीनाजोरी जैसा है। उन्होंने आइना दिखाते हुए कहा,पहले आप 400 करोड रुपए का शराब घोटाला करते हैं, फिर आप 3 साल तक लगातार जांच को टालने के लिए 9-9 ईडी के सम्मनों को स्वीकार नहीं करते हैं। और जब हाई कोर्ट भी स्पष्ट कर देता है कि सम्मन का पालन नहीं करने वाले केजरीवाल को गिरफ्तार क्यों नहीं किया जाता है। न्यायालय से स्पष्ट होने के बाद जब ईडी गिरफ्तार करती है तो वह पीड़ित होने का ढोंग करते हैं । उन्होंने बेहद हैरानी और अफसोस जताते हुए कहा कि ऐसा करने वाले वे लोग हैं जो भ्रष्टाचार के विरोध और नैतिकता के सिद्धांतों के संकल्प पर सत्ता में आए थे। उन्होंने देश में भ्रष्टाचार और नैतिक पतन का इतना बड़ा रिकॉर्ड बनाया है कि देश में पहली बार कोई मुख्यमंत्री पद पर रहते हुए सलाखों के पीछे हैं ।
इस मुद्दे पर कांग्रेस को भी घेरते हुए कहा, जिस पार्टी के करप्शन को कोस कोस कर आप पार्टी सत्ता में आई, उसी पार्टी के नक्शे कदम पर इन्होंने दिल्ली में जमकर भ्रष्टाचार किया। जिसमे सबसे दिलचस्प बात है कि जिस भ्रष्टाचार के आरोप में वे जेल पहुंचे हैं उसकी शिकायत भी कांग्रेस के नेताओं द्वारा राज्यपाल समय समय पर की गई थी। हैरानी है कि आरोप लगाने वाले और घोटाला करने वाले दोनों ही पार्टियों अब एक साथ पीड़ित होने का स्वांग रच रही हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि कानून अपना काम कर रहा हैं और यदि कुछ गलत किया है तो भुगतना भी पड़ेगा।
उन्होंने तंज किया कि जनता देख रही है कि एक दूसरे पर आरोप लगाकर झूठी राजनीति चमकाने वाली पार्टियां किस चोर चोर मौसेरे भाइयों की तरह एक साथ बैठी हैं ।
इस दौरान उन्होंने अपनी पार्टी के अकाउंट फ्रीज पर कांग्रेस अध्यक्ष माहरा के आरोपों पर पलटवार किया कि कांग्रेस का कोई अकाउंट फ्रीज नही हुआ है,बल्कि अगर कोई फ्रीज हुआ है तो वह है कांग्रेस की नीतियां और विचार । उन्होंने कहा,जहां तक सवाल है इनकम टैक्स की कार्यवाही का तो, मात्र उनके अकाउंट में बैलेंस लिमिटेशन तय की गई है, जो 115 करोड़ से कम नहीं की जा सकती है । बाकी 115 करोड़ से ऊपर की सभी धनराशि वे खर्च कर सकते हैं। उन्होंने निशाना साधते हुए कहा, इलेक्ट्रोरल वोट से मिले 1300 करोड़ का चंदा भी तो उन्होंने खर्च किया ।
उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस सिर्फ स्वयं को पीड़ित दर्शा कर, राजनैतिक सहानुभूति हासिल करने के यह सब ड्रामा कर रही है। क्योंकि बैंक खाते में लिमिटेशन तय करने की जानकारी तो पहले ही इनकम टैक्स उन्हें दे चुकी है और उनके आधिकारिक प्रवक्ताओं द्वारा सोशल मीडिया पर इसे स्वीकार भी जा चुका है। लेकिन लोकसभा चुनावों में सामने दिख रही हार को देखते हुए विपक्ष अभी से हार के तमाम बहाने तलाश रहा है ।