लोकसभा चुनावः भाजपा में हरिद्वार-गढ़वाल सीट पर टिकट बदलने के आसार

0
144

निशंक व तीरथ सिंह रावत का पत्ता कटने की उम्मीद

देहरादून 03 मार्च। भाजपा ने उत्तराखण्ड की तीन लोकसभा सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। तीनों सीटों पर भाजपा के सीटिंग सांसदों को ही उम्मीदवार बनाया गया है। किन्तु भाजपा ने सीटों के बंटवारे की पहली सूची में हरिद्वार और गढ़वाल लोससभा सीट के प्रत्याशियों के नाम शामिल नहीं है। इसके बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि हरिद्वार व गढ़वाल सीट पर प्रत्याशियों के नामों को लेकर अभी कशमकश है। गढ़वाल से पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत सांसद हैं, जबकि हरिद्वार का प्रतिनिधित्व पूर्व केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक कर रहे हैं। भाजपा केंद्रीय नेतृत्व अपनी दूसरी सूची में इन दोनों सीटों के प्रत्याशियों के नाम घोषित कर सकता है। पहली सूची में दोनों सीटों के प्रत्याशियों के नाम शामिल न होने को लेकर सियासी हलकों में चर्चाएं हैं कि केंद्रीय नेतृत्व यहां नया प्रयोग करने के मूड में है। खुद भाजपा सूत्रों का कहना है कि हरिद्वार सीट पर पूर्व काबीना मंत्री मदन कौशिक की प्रबल दावेदारी बनती है। जिसे इस बार भाजपा आलाकमान नजर अंदाज करने की मूड में नही है। साथ ही दावेदारों में रूप्रेन्द्र प्रकाश व पूर्व विधायक संजय गुप्ता के नाम शामिल है।इधर पौड़ी सीट पर भाजपा पूर्व मुख्य मंत्री भुवनचंद खण्डूडी के बेटे पूर्व में गढ़वाल सीट से कांग्रेस से चुनाव लड़ चुके मनीष खण्डूरी पर नजर है। अगर बात नही बनती है तो फिर पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत या फिर सतपाल महाराज भी चुनाव मैदान में उतर सकते है। राजनीतिक गलियारों की चर्चाओं के अनुसार कुछ मिलाकर देखा जाए तो कम से कम हरिद्वार लोकसभा सीट पर भाजपा आलाकमान किसी पहाड़ी व्यक्ति को टिकट नही देगी। ऐसा तय माना जा रहा है। क्योंकि मूल निवास प्रमाण पत्र की आड़ में मैदानी व पहाड़ी व्यक्ति का मुद्दा सिर चढ़कर बोल रहा है।