सरकार पर गुनहगारों को बचाने का आरोप, अंकिता के माता पिता का अनिश्चिकालीन धरना जारी

0
165

श्रीनगर 28 फ़रवरी। प्रदेश सरकार पर गुनहगारों को बचाने का आरोप लगाते हुए उत्तराखण्ड के चर्चिच हत्याकांड मामले में अंकिता भंडारी के माता-पिता अनिश्चितकालनी धरने पर बैठ गए हैं। बुधवार को धरने को स्थानीय लोगों सहित कई जनप्रतिनिधियों ने अपना समर्थन दिया है। अंकिता भंडारी ने माता पिता ने न्याय न मिलने तक धरना जारी रखने की चेतावनी दी है।
अंकिता भंडारी के माता-पिता श्रीनगर पीपल चोरी के पास मंगलवार से अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए थे। बुधवार को धरने को समर्थन देते हुए स्थानीय लोग, जनप्रतिनिधि भी धरने पर बैठ गए हैं। इस मौके पर अंकिता के पिता वीरेंद्र भंडारी ने कहा कि एक साल बाद भी उनकी बेटी को इंसाफ नहीं मिल सका है। उन्होंने आरोप लगाया कि जो लोग बेटी को इंसाफ दिलाने के किए उनकी मदद कर रहे हैं। प्रदेश सरकार उन लोगों के खिलाफ साजिश रचकर उन्हे और उनके परिजनों को किसी न किसी मामले में फंसाने का काम कर रहे है।
वीरेंद्र भंडारी ने कहा कि प्रदेश सरकार वीआईपी का नाम उजागर करने के बजाय मामले को दबाने की कोशिश कर रही है। जबकि उन्होंने वीआईपी का नाम पौड़ी डीएम को लिखित में दिया है। लेकिन सरकार उनकी जांच नहीं कर रही है। उन्हांेने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार आरोपी पुलकित आर्य की संपत्ति को भी वैध करार दे रही है, जबकि पौड़ी पुलिस पुलकित की संपत्ति को कुर्क करने के आदेश दे चुकी है। उन्होंने न्याय न मिलने तक धरना जारी रखने की चेतावनी दी है।