राहतः पिंजरे में कैद हुआ गुलदार

0
65

श्रीनगर 11 फरवरी । देर रात वन विभाग की कड़ी मैहनत के बाद श्रीनगर में एक गुलदार पिंजरे में फंस गया है। जिसके बस स्थानीय लोगों ने राहत की सांस ली है। गुलदार के पिंजरे में कैद होने के बाद उसे ट्रेंकुलाइज कर अब नागदेव रेंज ले जाया गया। जहां डॉक्टरों की टीम गुलदार का परीक्षण करेगी।
बीती 3 फरवरी की शाम को खिर्सू के ग्वाड़ गांव में 11 साल के अंकित को गुलदार ने मार डाला था। इस घटना के 12 घंटे बाद यानी 4 फरवरी की देर शाम श्रीनगर के हाइडिल कॉलोनी में भी 4 साल के अयान को गुलदार ने अपना निवाला बना लिया। फिलहाल, वन विभाग ने दोनों परिवारों को मुआवजे के तौर पर 6-6 लाख की राशि दे दी है।
वहीं, गुलदारों को पकड़ने के लिए वन महकमा पसीना बहा रहा है। इसी कड़ी में देर रात करीब 10 बजे हाइडिल कॉलोनी में एक गुलदार पिंजरे में कैद हुआ है। पौडी नागदेव रेंज के डीएफओ अनिरुद्ध स्वप्निल ने बताया कि गुलदार को नागदेव रेंज पहुंचाया जा रहा है। जहां गुलदार परीक्षण किया जाएगा. साथ ही उसके सैंपल जांच के लिए भेज दिए जाएंगे। ताकि, ये पता चल सके कि बच्चों को निवाला बनाने गुलदार यही था या कोई और।