49वे खलंगा मेले का आयोजन 26 नवंबर को

0
295

वीरों और वीरांगनाओं की वीरता को किया जाएगा याद
देहरादून 23 नवंबर। बलभद्र खलंगा विकास समिति नालापानी के अध्यक्ष कर्नल विक्रम सिंह थापा ने अवगत कराया कि प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी सागरताल नालापानी में ऐतिहासिक 49वां खलंगा मेले का आयोजन 26 नवंबर को किया जा रहा है। सेना नायक कुंवर बलभद्र थापा तथा उनके वीरों और वीरांगनाओं की वीरता तथा अदम्य पराक्रम को याद कर उन्हें प्रतिवर्ष श्रंद्धाजलि देने के लिए मेले का आयोजन किया जाता है।
प्रेस क्लब में आयोजित प्रेस वार्ता में सचिव प्रभा शाह ने बताया कि इस दो दिवसीय मेले के प्रथम दिन शनिवार 25 नवंबर युद्ध स्मारक सहस्त्रधारा रोड में श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। तत्पश्चात स्वास्थ्य जागरूकता, पर्यावरण संरक्षण-संवर्धन एवं स्वच्छता के संदेश के लिए खलंगा ब्रेवरी बाईकऐथन (खलंगा बहादुरी साईकिल रैली) से होगा। यह रैली खलंगा युद्ध स्मारक सहस्त्रधारा रोड से प्रारंभ होगी और खलंगा युद्ध स्मारक, सागरताल, नालापानी में समाप्त होगी। रविवार को 49वां खलंगा मेला का भव्य आयोजन प्रारंभ होगा। इस मेले में 1814-16 में हुए खलंगा युद्ध के इतिहास का विस्तृत वर्णन, सांस्कृतिक कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों से आए हुए गोर्खाली, गढ़वाली एवं कुमाऊंनी लोकनृत्यों एवं गीतों की रंगारंग प्रस्तुतियां होंगी। इस बार मेले में मुख्य आकर्षण-भारतीय गोर्खा समुदाय की गौरवमयी लोक संस्कृति को दर्शाते हुए पहली बार लोकप्रिय नौमतीबाजा (प्राचीन गोर्खाली नौ वाद्य यंत्रों) द्वारा मनमोहक लोकसंगीत की प्रस्तुतियां होगी। प्रेसवार्ता में विनय गुरूंग, सांस्कृतिक सचिव कै वाईबी थापा, संगठन सचिव संजय थापा, गोपाल थापा, रणवीर सिंह थापा, महेश भूषाल, सुरेश गुरूंग, सपना मल्ल, राजेंद्र सिंह शाह उपस्थित थे।