एसटीएफ ने भारी मात्रा में स्मैक के साथ दबोचे दो नशा तस्कर

0
78

देहरादून। एसटीएफ की ए.एन.टी.एफ टीम ने शुक्रवार देर शाम बरेली के दो नशा तस्करों को दबोच कर उनके पास से 260 ग्राम स्मैक बरामद की गयी है। आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया गया है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि एसटीएफ की ए.एन.टी.एफ टीम(एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स) द्वारा स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर संयुक्त कार्रवाई में बीती देर शाम थाना पुलभटृा क्षेत्रांतर्गत जनपद उधम सिंह नगर के नदेली रोड बरा के पास से 2 अंतरराज्यीय ड्रग्स तस्करों को तस्करी में प्रयुक्त बाइक व 260 ग्राम स्मैक सहित गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार नशा तस्कर पिछले कई सालों से उत्तराखंड में स्मैक की सप्लाई कर रहे थे। गिरफ्तार आरोपियों ने अपना नाम दानिश पुत्र अशफाक निवासी मोहनपुर नकटिया थाना कैंट जनपद बरेली उत्तर प्रदेश व राहत खान पुत्र राशिद खान निवासी पडेरा थाना पडेरा जनपद बरेली उत्तर प्रदेश बताया। आरोपियों ने बताया कि वह यह स्मैक नईम उर्फ शेरा फरीदपुर जनपद बरेली उत्तर प्रदेश से लेकर आ रहे हैं।
एसएसपी एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा बताया गया कि पकड़ा गया आरोपी दानिश पूर्व में मोटरसाइकिल चोरी में वर्ष 2020 में थाना कैंट व वर्ष 2022 में थाना शीशगढ़ व थाना प्रेम नगर से चोरी की कई मोटरसाइकिलों सहित गिरफ्तार कर जेल जा चुका है। आरोपी दानिश पर जनपद बरेली में कई अभियोग पंजीकृत हैं। आरोपी दानिश की जान पहचान बरेली जेल में बंद होने के दौरान ही नईम उर्फ शेरा से हुई थी जो एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत जेल में बंद था। नईम उर्फ शेरा ने ही दानिश को स्मैक तस्करी के बारे में बताया। जेल से बाहर आने के बाद दोनों ही स्मैक तस्करी के कार्य में लिप्त हो गए। नईम उर्फ शेरा ने ही अपने साथ राहत खान को भी इस कार्य हेतु तैयार कर लिया तथा उसकी मुलाकात दानिश से कराई थी। बहरहाल एसटीएफ द्वारा दोनो आरोपियों के खिलाफ थाना पुलभट्टा में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उनको न्यायालय में पेश कर दिया गया है। बरामद स्मैक की कीमत 26 लाख रूपये आंकी जा रही है।