प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वागत के लिए तैयार है पिथौरागढ़

0
148

पिथौरागढ़। पीएम नरेंद्र मोदी के स्वागत में पिथौरागढ़ शहर को भव्य तरीके से सजाया गया है। नगर की सड़कों का कायाकल्प कर दिया गया है। प्रधानमंत्री के आवागमन वाले मार्ग किनारे की दीवारों पर अद्भुत चित्रकारी की गई है, जिसमें प्रदेश के प्रसिद्ध धार्मिक व पर्यटन स्थलों के अलावा लोक संस्कृति को उकेरा गया है। पूरे शहर की खूबसूरती देखते ही बन रही है।
वहीं, स्पोटर्स स्टेडियम में होने वाली पीएम की सभा को लेकर तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। 11 व 12 अक्टूबर को सीमांत जनपद में प्रस्तावित प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर इन दिनों शहर का नजारा पूरी तरह से बदल चुका है।पीएम के आवागमन वाले मार्ग नैनी-सैनी हवाई अड्डे से लेकर स्पोटर्स स्टेडियम तक सड़कों व सड़क किनारे की दीवारों की कायाकल्प की जा चुकी है। सड़क किनारे दीवारों पर ऊं पर्वत, आदि कैलास, कुमाऊंनी ग्रामीण परिवेश, छोलिया नृत्य, राज्य पक्षी मोनाल, राज्य पशु कस्तूरी मृग, ऐपण कला, मंदिरों की अद्भुत चित्रकारी पूरे कुमाऊं की कहानी बयां कर रही है। वहीं, स्पोटर्स स्टेडियम में होने वाली प्रधानमंत्री की सभा को लेकर तैयारियां अंतिम चरण में है। दक्षिण दिशा की ओर प्रधानमंत्री के लिए मुख्य मंच बनाया जा रहा है।
मुख्य मंच के निकट ही कैबिनेट मंत्रियों के लिए अलग मंच व अधिकारियों के लिए अलग मंच बनाया जा रहा है। स्टेडियम में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक प्रधानमंत्री का कार्यक्रम निकट आते ही प्रशासन व पुलिस सक्रिय हो चुका है। स्टेडियम में बाहरी व्यक्तियों के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।
स्टेडियम के प्रवेश द्वार पर पुलिस कर्मी की तैनाती कर दी गई है। बगैर पास के लोगों को अनावश्यक प्रवेश नहीं दिया जा रहा है। टैक्सी स्टेंड से वाहन हटाए प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए पुलिस द्वारा नगर में यातायात व्यवस्था में भी बदलाव कर दिया गया है।
शनिवार को नगर के केएमओयू स्टेशन, वड्डा टैक्सी स्टेंड, सिल्थाम आदि स्थानों से वाहनों को हटाया गया। टैक्सी वाहन अब देव सिंह मैदान के निकट स्थित मल्टी स्टोर पार्किंग में खड़े किए जा रहे हैं।

पीएम के आगमन से पूर्व यातायात प्लान तैयार
पिथौरागढ। जिले के अन्य सभी स्थानों से आने वाले वाहनों को पूर्व में ही रोक दिया जाएगा। कार्यक्रम की समाप्ति के बाद वाहनों को छोड़ने के लिए समय निर्धारित किया गया है। पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह ने बताया कि वीवीआईपी के कार्यक्रम को लेकर तय की गई यातायात व्यवस्था का सख्ती से पालन होगा। उन्होंने बताया कि वापसी के समय का रूट भी तय कर दिया गया है। शहर से बाहर जाने तथा बाहरी जिलों से शहर में आने वाले स्थानीय लोगों की सुविधा को देखते हुए उन्हें प्रवेश की भी सुविधा दी गई है।