मेयर के साथ शहर के जल भराव को लेकर दिल्ली से पहुंची टीम की बैठक।

0
203

रुद्रपुर। बुधवार को शहर को जलभराव से निजात दिलाने के लिए कवायद शुरू हो गयी है। ड्रेनेज का मास्टर प्लान तैयार करने के लिए दिल्ली की वीकेएस इन्फ्राटेक मैनेजमेंट प्रा लि कंपनी टीम ने मेयर रामपाल सिंह के साथ बैठक कर चर्चा की। इस दौरान नगर निगम और सिचाई विभाग की टीम के साथ जलभराव वाले इलाकों और शहर के आस पास की नहर- नालों का सर्वे किया।
शहर में जलभराव की समस्या लम्बे समय से बनी हुयी है। नगर निगम स्तर से हर साल नाले नालियों की तली झाड़ सफाई के बावजूद बरसात के दिनों में शहर में जलभराव की स्थिति बनी रहती हैं। जलभराव से निजात दिलाने के लिए मेयर लगातार प्रयासरत थे उन्होंने सीएम पुष्कर सिंह धामी के अलावा शहरी विकास मंत्री समेत शासन के अधिकारियों से भी निजात दिलाने की मांग की थी। रूद्रपुर में जलभराव से निजात दिलाने के लिए प्रभावी ड्रेनेज सिस्टम मुख्य जरूरत बन चुका है। इसी को लेकर बुधवार को दिल्ली से वीकेएस की कंपनी की टीम ड्रेनेज का मास्टर प्लान तैयार करने के लिए सर्वे हेतु यहां पहुंची। टीम ने मेयर रामपाल सिंह के साथ नगर निगम स्थित उनके कार्यालय में देर तक शहर की स्थिति को लेकर चर्चा की। मेयर ने दो साल पहले शहर में आई बाढ़ के बारे में पूरी जानकारी दी। उन्होंने भूरारानी, मॉडल कॉलोनी, गाबा चैक,काशीपुर बाई पास रोड़,मुख्य बाजार, ट्रांजिट कैम्प, मुखर्जी नगर, संजय नगर, खेड़ा, गन्ना भवन समेत निचली बस्तियों में होने वाले जलभराव को लेकर खुश भी अवगत कराया। टीम ने मास्टर प्लान दूरगामी सोच के साथ बनाने को कहा। टीम ने शहर के बीच से गुजरने वाली नदियों के साथ ही बड़े नालों आदि के बारे में भी विस्तार से जानकारी ली।
मेयर ने बताया कि रूद्रपुर के बहुप्रतीक्षित सिस्टम की कवायद शुरू हो गयी है। फिलहाल प्रारंभिक सर्वे किया गया है। रिपोर्ट तैयार कर शासन को सौंपी जायेगी। इस दौरान मुख्य नगर आयुक्त नरेश दुर्गापाल,वीकेएस इंफो ट्रैक मैनेजमेंट प्राइवेट लिमिटेड के सलाहकार डॉ डीके सिंह, सहायक अभियन्ता विजय पाल सिंह, सिंचाई विभाग जेई पंचदेव कई लोग मौजूद रहे।