चंदन जी के अधूरे कामों और वादों को पूरा करेंगे: भट्ट

0
112

प्रदेश भर में स्व. रामदास को भाजपा ने दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

देहरादून। भाजपा ने शुक्रवार को अपने वरिष्ठ नेता और कैबिनेट मंत्री दिवंगत चंदन राम दास को प्रदेश मुख्यालय सहित सभी मंडलों में कार्यक्रम आयोजित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी।

इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट ने दुखी और स्तब्ध कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार स्वर्गीय रामदास के अधूरे कामों और उनके जनता से किये वादों को पूरा करेगी और हम सबको उनके विचारों एवं सिद्धान्तों को अपने राजनैतिक जीवन मे आगे बढ़ाना है।   पार्टी मुख्यालय में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में प्रदेश अध्यक्ष भट्ट ने कहा कि चंदन रामदास जी का शांत, सौम्य, विशाल व्यक्तित्व और उनका समाज, क्षेत्र और विशेषकर उत्तराखंड के लिए योगदान बेहद अनुकरणीय है। पार्टी कार्यकर्ताओं और सांगठनिक कार्यों को लेकर उनकी प्रतिबद्धता राजनैतिक जीवन वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए प्रेरणादायक है। उन्होंने कहा कि उनका इस तरह आकस्मिक चले जाना प्रदेश की जनता एवं भाजपा संगठन के लिए अपूर्णीय क्षति है। उन्होंने विश्वास दिलाते हुए कहा कि सीएम धामी के नेतृत्व में हमारी सरकार चंदन जी के द्वारा शुरू सभी कार्यों एवं किये गए वादों को अवश्य पूरा करेगी। कार्यक्रम का संचालन करते हुए प्रदेश महामंत्री आदित्य कोठारी ने कहा कि व्यवहार और जनकल्याणकारी कार्यों के चलते क्षेत्र में उनकी लोकप्रियता का यह आलम था कि स्वास्थ्य कारणों के चलते वह 2022 के विधानसभा चुनाव में मात्र एक ही दिन प्रचार के लिए बाहर निकले फिर भी बड़े अंतर से जीत हासिल की। श्रद्धांजलि सभा मे सम्मिलित सभी वक्ताओं ने इस दुख की घड़ी में उनके परिवार के प्रति संवेदनाएं प्रकट करते हुए ईश्वर से उनकी आत्मा को शांति देने की कामना की। इस दौरान सभी लोगों ने स्वर्गीय रामदास के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर विधायक राजकुमार पौरी, उमेश शर्मा काऊ, सविता कपूर, प्रदेश कोषाध्यक्ष पुनीत मित्तल, प्रदेश मीडिया प्रभार मनवीर चौहान, मेयर सुनील उनियाल गामा, डॉक्टर देवेंद्र भसीन, विनय गोयल, मधु भट्ट, वीरेंद्र बिष्ट, वीरेंद्र बिष्ट सुनीता विद्यार्थी, महानगर अध्यक्ष सिद्धार्थ अग्रवाल, रविन्द्र जुगरान, सुभाष बड़थ्वाल, डॉक्टर इंदुबाला, ऋषिराज डबराल  डॉक्टर आर के जैन, विश्वास डाबर समेत बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी एवं वरिष्ठ कार्यकर्ता मौजूद रहे।