6 साल से फरार मसूरी गैंगरेप का हत्यारोपी बिहार से गिरफ्तार।

0
148

19साल की युवती को तेजाब से जलाकर मारा था
घटना में 9 आरोपियों ने नाम आए थे सामने

देहरादून 17 मार्च । कोतवाली मसूरी पुलिस ने 6 साल से गैंगरेप और हत्या मामले में फरार 25 हजार के इनामी आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी की गिरफ्तारी बिहार में नेपाल सीमा से की गई है। एसपी सिटी सरिता डोभाल ने इस मामले का खुलासा किया। एसपी सिटी सरिता डोभाल ने बताया कि आरोपी ने अपने 9 साथियों के साथ मिलकर युवती का गैंगरेप किया था।
बता दें 13 जुलाई 2017 को मसूरी से करीब 02 किलोमीटर नीचे चूनाखाला के जंगल में एक युवती का शव पेड़ पर लटका हुआ मिला। जिसका चेहरा झुलसा हुआ था। मौके पर फॉरेन्सिक टीम ने आवश्यक साक्ष्य संकलन करते हुए हत्या की आशंका जताई थी। पुलिस ने अज्ञात शव की शिनाख्त के प्रयास किए। शव की पहचान पुरोला उत्तरकाशी निवासी 19 वर्षीय युवती के रूप में हुई। जिसके संबंध में 15 जुलाई 2017 को कोतवाली मसूरी में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया गया।
घटना के संबंध में जांच करने पर पता चला कि युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म के बाद गला दबाकर हत्या की गयी। उसके चेहरे पर तेजाब डालकर उसकी पहचान छुपाने का प्रयास किया गया। घटना को अंजाम देने वाले 9 आरोपियों के नाम सामने आए। जिसमें से 7 आरोपियों को पुलिस ने अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार कर जेल भेजा। दो आरोपी बिट्टू और जयकरण भगत लगातार अपनी गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार चल रहे थे।

पुलिस ने घोषित किया था 25 हजार का इनाम

देहरादून एसपी सिटी सरिता डोभाल ने बताया फरार दोनों आरोपियों के खिलाफ न्यायालय से गैर जमानती वारंट नोटिस जारी किए गए। साथ ही आरोपी बिट्टू साहनी और जयकरण के लगातार फरार चलने पर डीआईजी गढ़वाल ने 25-25 हजार का इनाम घोषित किया। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीमों का गठन किया गया। गठित टीम ने बिट्टू साहनी निवासी लक्ष्मीपुर जिला सीतामढ़ी बिहार के स्थानों पर दबिशें दी। मुखबिर की सूचना पर 15 मार्च को इनामी बिट्टू साहनी को सीतामढ़ी बिहार से गिरफ्तार किया गया। आरोपी को स्थानीय न्यायालय में पेश किया गया। जहां से उसे ट्रांजिट रिमांड पर देहरादून लाया गया।