सचिवालय कूच करते कांग्रेस सेवादल कार्यकर्ता गिरफ्तार

0
121

बेरोजगार पर दर्ज मुकदमे वापस लेने व भर्ती परीक्षाओं की जांच की मांग

देहरादून। बेरोजगार युवाओं पर दर्ज किए गए मुकदमे वापस लेने के लिए एवं भर्ती परीक्षाओं की सीबीआई जांच की मांग को लेकर कांग्रेस सेवादल ने सचिवालय कूच किया गया।

इसके बाद पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार कांग्रेस सेवा दल के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष हेमा पुरोहित एवं गणेश गोदियाल के नेतृत्व में कांग्रेस भवन से सचिवालय की ओर कूच किया परंतु एश्ले हॉल के पास ही पुलिस ने बैरिकेडिंग कर कांग्रेस सेवा दल के कार्यकर्ताओं को रोक दिया। रोके जाने से नाराज कांग्रेस सेवा दल के कार्यकर्ता वहीं पर धरने पर बैठ गए और सरकार के विरुद्ध नारेबाजी की। जब पुलिस के बार-बार आग्रह किए जाने के बावजूद कांग्रेस के नेता धरने से उठने को तैयार नहीं हुए तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और अपने वाहनों में भरकर पुलिस लाइन ले गए।

इस मौके पर कांग्रेस की पॉलिटिकल अफेयर कमेटी के सदस्य एवं प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष गणेश गोदियाल भी धरने पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि प्रदेश की स्थिति बहुत खराब हो चुकी है। इससे अधिक खराब स्थिति नहीं हो सकती कि युवा और जनता को सरकार के परीक्षा कराने वाले तंत्र से ही भरोसा उठ जाए। सरकार लाठी डंडे के बल पर युवाओं की आवाज़ को दबाना चाहती है, जो कांग्रेस होने नहीं देगी। कांग्रेस सेवादल के प्रदेश अध्यक्ष हेमा पुरोहित ने कहा कि जिस जनता की कुर्बानियों की बदौलत आज उत्तराखंड बना हुआ है और उसकी संतानों पर लाठी-डंडे बरसा कर मुकदमें दर्ज करके साबित कर रही है कि सरकार का ना तो आम जनता से कोई लेना-देना है और ना ही उत्तराखंड आंदोलनकारियों से।  राजीव भवन में आयोजित धरने को कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता गरिमा मेहरा, याकूब सिद्दीकी, आशा टमटा, पीयूष गौर, मनीष खंडूरी, प्रवीण पुरोहित, मथुरा दत्त जोशी आदि ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में पछवादून जिलाध्यक्ष विजय कुमार एडवोकेट, मनमोहन शर्मा प्रवीण पुरोहित, प्रवक्ता अशोक मल्होत्रा, भास्कर चुग, पीयूष गॉड, शिव भट्ट, राजकुमार यादव, सावित्री थापा, सुशीला देसाई, योगिता बिष्ट, राजेश नौटियाल सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता शामिल रहे।