संदिग्ध परिस्थितियों में फंदे से लटका मिला मजदूर का शव

0
191

ऋषिकेश। शहर के बंगाली मंदिर रोड स्थित भरत वाटिका नाम की निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत में पश्चिम बंगाल के रहने वाले रबिन नाम के 19 वर्षीय युवक का संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी के फंदे से लटका हुआ शव बरामद हुआ है। मौके पर पहंुची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
सीओ ने जांच में पाया कि युवक का शव किसी रस्सी में नहीं बल्कि दुपट्टे से लटका हुआ मिला है। यह देखते ही उन्होंने निर्माणाधीन भवन में कार्य कर रहे मजदूरों और ठेकेदारों से पूछताछ करनी शुरू कर दी है। निर्माणाधीन भवन के ठेकेदार को भी मौके पर तलब किया गया। पुलिस युवक की मौत की सभी पहलुओं से जांच कर रही है। मृतक मजदूर रबिन टुडू पुत्र बिमल टुडू के साथी मजदूर लाखीराम ने बताया कि रबिन कल रात तक ठीक था। उसने मजदूरी भी की थी लेकिन उसने फांसी कब लगा ली, इसका किसी को पता नहीं चला. उसने बताया कि रबिन का किसी के साथ कोई विवाद भी नहीं था। उसने यह कदम क्यों उठाया यह किसी को समझ नही आ रहा है? ऋषिकेश पुलिस क्षेत्राधिकारी डीसी ढौंडियाल ने बताया कि रबिन टुडू (19) पुत्र बिमल टुडू पश्चिम बंगाल के दक्षिण दिनाजपुर जिले के बादलपुर का निवासी था। इसकी मौत के कारणों का पता लगाया जा रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही असल वजह का पता चल सकेगा। फिलहाल, पुलिस अपने स्तर पर जांच कर रही है। युवक के पास से एक लाल रंग का दुपट्टा नुमा कपड़ा बरामद हुआ है। उसकी भी जांच की जा रही है। प्रथम दृष्टया यह आत्महत्या प्रतीत हो रहा है। युवक का शव रस्सी में नहीं बल्कि एक गुलाबी रंग के दुपट्टे से लटका हुआ मिला है। दुपट्टा शव के पास कैसे आया यह पुलिस के लिए पहेली बन गई है। पुलिस के द्वारा निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत में काम कर रहे सभी लोगों से पूछताछ की गई, लेकिन दुपट्टा किसका है यह पता नहीं चल सका। दुपट्टा किसका है यह पता चलते ही कई राज खुलने की संभावना है.।