बार एसोसिएशन के हरेला पर्व में जिलाधिकारी एवम् जिला जज ने किया पौधा रोपण।

0
364

रूद्रपुर 18 जुलाई । हरेला पर्व पर जिला बार ऐसोसिऐशन द्वारा आज जिला न्यायालय परिसर में वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें जिला जज प्रेम सिंह खिमाल, जिलाधिकारी युगल किशोर पंत ने प्रतिभाग कर फलदार पौधों का रोपण किया।
इस अवसर पर जिला जज प्रेम सिंह खिमाल ने हरेला पर्व की बधाई दी। उन्होने कहा कि हरेला पर्व पर्यावरण के संरक्षण का प्रतीक है। उन्होने कहा कि हम सबको अधिक से अधिक संख्या में और पूरी निष्ठा से इस पर्व को मनाना चाहिए।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने हरेला पर्व की सभी को बधाई व शुभकामानाऐं दी। उन्होने पर्यावरण पर विसतृत रूप से प्रकाश डालते हुए कहा कि हम सबने जलवायु परिवर्तन के बारे में पढ़ा था किन्तु आज देख भी रहे है, जहां बारिश होनी चाहिए थी वहा बारिश नही हो रही है और जहा वर्षा की आवश्यकता नही है वहां अत्यधिक वर्षा हो रही है। उन्होने कहा कि जलवायु परिर्वतन के कारण ब्रिटेन, फ्रांस, स्वीडन आदि अन्य कई देशों में औसतन बहुत अधिक गर्मी पड़ रही है। इन सभी देशवासियों को जलवायु परिवर्तन के कारण कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि उन देश के नागरिको ने कभी सोचा भी नही था कि इतनी गर्मी का सामना करना पडेगा।
उन्होने कहा कि यदि हम सब अब भी पर्यावरण को संरक्षित करने के लिए सचेत नही हुए तो हमारी आने वाली पीढ़ी को इस जलवायु परिवर्तन से होने वाले दुष्प्रभाव झेलने पड़ेंगे। इसके लिए हमने अपनी जीवन शैली, राहन-सहन, खान-पान आदि व्यापक चीजों पर जिससे जलवायु परिवर्तन हो रहा है उसको अगर हमने नही रोका तो हमारी आने वाली पीढ़ी को बहुत सारे बदलाव देखने को मिलेंगे। उन्होने कहा कि जलवायु परिवर्तन के कारण मानसून के समय वर्षा न होना एवं बिना मानसून के अत्यधिक वर्षा होने से हमारी फसल चक्र प्रभावित होगी, फसल चक्र प्रभावित होने से हम सबके सामने खाद्य संकट जैसी कई समस्याऐं खड़ी हो सकती है। उन्होने कहा कि हरेला पर्व पर्यावरण के संरक्षण, हरियाली, खुशहाली उन्नति का पर्व है। उन्होने कहा कि हम सबको प्रयास करना होगा कि यह पर्व के जो भाव है वह सिर्फ हम तक ही सीमित न हो अपितु अन्य राज्यों भी अपने साथियों तक पहुंचे और हरेला पर्व को पूर्ण मन से मानये। उन्होने कहा कि जो वृक्ष हमसब लगाते है उसे देखें कि अगले वर्ष वह कितना बढ़ा है, और उसकी पूरी देखभाल करें।
श्री पंत ने कहा कि न्यायालय में लोगों की सुविधा हेतु न्यायालय परिसर में शीघ्र ही डाकघर खुल सकता है इसके लिए शीघ्रता से कार्य किया जा रहा है। उन्होने कहा कि न्यायालय परिसर में जूनियर अधिवक्ताओं के चैम्बर के निर्माण हेतु धनराशि स्वीकृत हो चुकी है जिसमें शीघ्र ही कार्य प्रारम्भ हो जायेगा।
इस अवसर पर एडीजे प्रथम सुशील तोमर, एडीजे द्वितीय शादाब बानों, नाजराज प्रभारी रीना नेगी, सीजेएम मो0 युसुफ, सिनियर सिविल जज नाजिश कलीम, न्यायधीश साईबर न्यायालय रोहित जोशी, डीजीसी सिविल बरीत सिंह के साथ अन्य न्याययिक अधिकारी गण व अधिवक्तागण उपस्थित थे।