चारधाम यात्रा में यात्रियों की संख्या निर्धारित नहींः धामी

0
232

उत्तरकाशी। अक्षय तृतीया के पावन अवसर पर गंगोत्री धाम के कपाटोद्घाटन में शिरकत करने पहुंचे मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मां गंगा से प्रदेश के लोगों की खुशहाली की कामना की। इस दौरान सीएम ने कहा कि चारधाम यात्रा के लिए यात्रियों की सीमित संख्या का कोई निर्धारण नहीं किया गया है। चारों धामों में यात्री अपने हिसाब से दर्शन के लिये आ सकेंगे। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में यात्रियों की संख्या में इजाफा होता है तो इसके बाद ही विचार किया जाएगा।
मंगलवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सुबह 9.30 बजे हर्षिल हेलीपैड पंहुचे। जहां से वाया कार वह गंगोत्री धाम पंहुचे। इस दौरान उन्होंने धाम में प्रदेश की खुशहाली के लिये सपत्निक मां गंगा की पूजा अर्चना की। उनकी मौजदूगी में तीर्थ पुरोहितों ने ठीक 11रू15 पर गंगोत्री धाम के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोले। इसके बाद मीडिया से रूबरू होते सीएम धामी ने कहा कि गंगोत्री-यमुनोत्री धाम के कपाट खुलने पर चारधाम यात्रा का आज विधिवत आगाज हो गया है। उन्होंने कहा कि मैं श्रद्धालुओं का उत्तराखंड देवभूमि आगमन पर स्वागत करता हूं। उन्होंने कहा कि इस बार चारधाम यात्रा ऐतिहासिक होगी। सबकी यात्रा सरल व सुगम हो इसके लिये सरकार बचनवद्ध है। धाम के कपाट खुलने के बाद सीएम पुष्कर सिंह धामी ने पत्रकारों से संक्ष्प्ति वार्ता में कहा कि सरकार चारधाम यात्रा को सुगम और सुरक्षित बनाने के लिये काम कर रही है। उन्होंने कहा कि यात्रियों को किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिये पुलिस प्रशासन के अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिये गए है। उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा के लिये यात्रियों की संख्या का कोई निर्धारण नहीं किया गया है। भविष्य में यदि यात्रियों की संख्या बढ़ती है तो इस पर विचार किया जा सकता है। फिलहाल यात्रियों के आवागमन पर किसी तरह की कोई रोक नहीं हैं।