युक्रेन में फंसे अपनों को लेकर परिजन चिंतित।

0
498

टिहरी। टिहरी जिले के भिलंगना ब्लॉक के सबसे अधिक लोग विभिन्न देशों में नौकरी और व्यवसाय हेतु निवासरत है। रूस व यूक्रेन के मध्य चल रहे युद्ध के कारण कई भारतीय यूक्रेन में फंस गये है, जिसको लेकर उनके परिजन चिंतित है। यूक्रेन में फंसे लोगों के परिजनों ने अपनों को स्वदेश लाने की सीएम और केंद्र सरकार से गुहार लगाई है।
यूक्रेन में फंसे भिलंगना ब्लॉक के लोग अपनों की चिंता को लेकर परेशान है। घनसाली के बजिंगा गांव के मकान सिंह पुत्र शेर सिंह रौतेला तथा ग्राम गवाणा मल्ला के सुंदर सिंह रावत यूक्रेन के खारकीव शहर में होटल लाइन में काम करते हैं। सामाजिक कार्यकर्ता गोविंद सिंह रौतेला ने बताया कि यह दोनों व्यक्ति होटल लाइन में कार्यरत है, बताया यूक्रेन में फंसे लोगों की अपने परिजनों से बातचीत तो हो रही है,वह अपने आपको कुशल भी बता रहें है, लेकिन युद्ध के हालात को लेकर परिजन चिंतित है। एसडीएम घनसाली केएन गोस्वामी ने बताया कि अभी तक उन्हें इस संबंध में कोई जानकारी नही दी गई है। भिलंगना ब्लॉक के जन प्रतिनिधियों और सामाजिक संगठनों ने शासन-प्रशासन से यूक्रेन में क्षेत्र के नौकरी, शिक्षा और व्यवसाय के दृष्टि से रह रहे लोगों की सूचना समय-समय पर उनके परिजनों को उपलब्ध कराने की मांग की है। उन्होंने मुख्यमंत्री पुष्कर धामी के माध्यम से केंद्र सरकार से यूक्रेन में फंसे प्रदेश के सभी नागरिकों को जल्द-जल्द से सुरक्षित भारत लाने की मांग की है।