महिला शिक्षिकाओं को तीन दिन का पीरियड लीव देने की मांग  उप्र महिला शिक्षक संघ ने विधायक को सौंपा ज्ञापन

0
3474
शामली। उत्तर प्रदेश महिला शिक्षक संघ ने महिला शिक्षिकाओं व महिला कर्मचारियों को माह में तीन दिन पीरियड लीव देने की मांग को लेकर विधायक को ज्ञापन सौंपकर शासनादेश जारी कराने की मांग की है। जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश महिला शिक्षक संघ ने क्षेत्रीय विधायक तेजेन्द्र निर्वाल को एक ज्ञापन सौंपा। संघ की जिलाध्यक्ष रश्मि चौधरी ने बताया कि बेसिक शिक्षा विभाग में कार्यरत महिला कर्मचारियों व महिला शिक्षिकाओं को माह में तीन दिन पीरियड लीव हेतु शासनादेश जारी किया जाएं। उन्होंने कहा कि इस कठिन समय में महिलाओं को शारीरिक व मानसिक स्थिति अन्य सामान दिनों की अपेक्षा ज्यादा तकलीफदेय होती है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं व लडकियों के लिए मिशन शक्ति व अन्य कल्याणकारी योजनाओं को प्राथमिकता के साथ चलाकर उन्हें आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनाया जा रहा है। सरकार का यह कदम बेहद प्रशंसनीय है लेकिन महिलाओं की इस अनिवार्य व प्राकृतिक समस्या पर सरकार को मानवीय दृष्टिकोण अपनाते हुए बिहार की भांति उत्तर प्रदेश सरकार को भी महिलाओं को तीन दिन का पीरियड लीव देने संबंधी शासनादेश जारी करना चाहिए। इस अवसर पर सारिका, रेणुका शर्मा, कविता गुप्ता, पिंकी सिंह, अनुराधा, रेशमा, अनिता तोमर, नीरा मलिक, राजेश चौधरी, कुसुमलता, संगीता तरार, नीशू, उषा, सुवासिनी आदि मौजूद रहे।
रिर्पोट:- सिद्धार्थ भारद्वाज शामली उत्तर प्रदेश।