अब तक 3 लाख श्रद्धालुओं ने किये दर्शन केदार धाम पहुंचे 1 लाख 36 हजार से अधिक यात्री

0
49

28 लाख से अधिक ने कराया रजिस्ट्रेशन
गंगोत्री व यमुनोत्री धामों में भी बढ़े यात्री

देहरादून 15 मई । चार धाम यात्रा में फैली अव्यवस्थाओं के बीच आज गढ़वाल कमिश्नर विनय शंकर पांडे ने एक पत्रकार वार्ता में बताया कि राज्य में चारधाम यात्रा सुचारू रूप से चल रही है। जो भी थोड़ी बहुत अव्यवस्थाओं की बात सामने आ रही है उन्हें दूर करने के प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार 28 लाख से ऊपर श्रद्धालुओं द्वारा सभी चार धामों के लिए रजिस्ट्रेशन कराया गया है तथा 3 लाख से अधिक श्रद्धालु सभी चारों धाम में दर्शन कर चुके हैं।
गढ़वाल कमिश्नर विनय शंकर पांडे का कहना है कि 10 मई को गंगोत्री यमुनोत्री और केदार धाम के कपाट खुले थे तथा 12 मई को बद्री विशाल धाम के कपाट खोले गए थे। उन्होंने कहा कि अब तक केदारनाथ धाम में सबसे अधिक यात्री पहुंचे हैं जिनकी संख्या 1 लाख 36 हजार 308 है। उन्होंने कहा कि इस बार गंगोत्री और यमुनोत्री धाम जाने वाले श्रद्धालुओं की संख्या में भी वृद्धि हुई है जहां अब तक गंगोत्री धाम में 80 हजार और यमुनोत्री धाम में 76 हजार से अधिक श्रद्धालुओं ने दर्शन किए हैं। उन्होंने कहा कि गंगोत्री और यमुनोत्री धाम में हर रोज 10-12 हजार यात्री पहुंच रहे हैं। वहीं उन्होंने कहा कि बद्रीनाथ धाम के कपाट सबसे बाद में खुले हैं जिसके कारण अभी कम ही यात्री पहुंचे हैं।
उन्होंने कहा कि 26 लाख से अधिक लोगों द्वारा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया गया है जबकि 1 लाख 36 हजार के आसपास ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन किए गए हैं। उन्होंने कहा की यात्रा में जिस तरह से श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है उसके मद्देनजर व्यवस्थाओं को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास किया जा रहा है तथा रजिस्ट्रेशन को फिलहाल रोका गया है। स्थिति सामान्य होते ही फिर रजिस्ट्रेशन शुरू किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि गढ़वाल कमिश्नर अभी खुद चार धामों की व्यवस्थाओं का जायजा लेने केदारनाथ धाम और बद्रीनाथ धाम होकर आए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की कोशिश है कि यात्रियों को कोई परेशानी न हो। फिलहाल अभी वीआईपी दर्शन पर भी रोक लगाई गई है।