सचिव गृह ने यात्रा व्यवस्थाओं का लिया जायजा

0
53

रुद्रप्रयाग 13 मई । सचिव गृह उत्तराखण्ड दिलीप जावलकर सोमवार को पुलिस कार्यालय रुद्रप्रयाग पहुंचे। जहंा उन्होने सलामी लेने के बाद पुलिस कार्यालय में लगे सीसीटीवी कैमरों के फीड की जानकारी ली गयी।
पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग ने उन्हे अवगत कराया कि 16 कैमरों से केदारनाथ धाम के अलग-अलग क्षेत्रों का फीड कार्यालय में प्राप्त हो रहा है, इनके अतिरिक्त 65 सीसीटीवी कैमरों से जनपद की यातायात व्यवस्था का फीड प्राप्त हो रहा है, जिसकी मॉनीटरिंग उनके द्वारा अपने कार्यालय कक्ष व पुलिस कन्ट्रोल रूम से की जाती है।
जिसके बाद सचिव गृह ने पुलिस कन्ट्रोल रूम का निरीक्षण कर यात्रा के विषय में जानकारी ली। जिस पर पुलिस अधीक्षक ने अवगत कराया कि केदारनाथ यात्रा अवधि में पुलिस कन्ट्रोल रूम यात्रा कन्ट्रोल रूम का भी कार्य करता है। यह भी अवगत कराया गया कि जनपद में स्मार्ट कमाण्ड एवं कन्ट्रोल रूम का कार्य गतिमान है, अगले माह से यह कन्ट्रोल रूम पूरी तरह से शुरू हो जायेगा।
पुलिस अधीक्षक रुद्रप्रयाग ने श्री केदारनाथ धाम यात्रा की तैयारियों एवं अब तक चली केदारनाथ धाम यात्रा की जानकारी देते हुए बताया कि जनपद में यात्रा के संचालन हेतु पुलिस कन्ट्रोल रूम ही यात्रा कन्ट्रोल रूम के तौर पर कार्य कर रहा है। कन्ट्रोल रूम के पास यात्रियों की संख्या, वाहनों की संख्या, यातायात की समस्या व यात्रियों की समस्या से सम्बन्धित कॉल्स आते हैं। डीसीसी एवं डायल 112 का सैटअप भी कन्ट्रोल रूम में होने के बारे मे बताया गया। पुलिस बल के व्यवस्थापन की जानकारी देते हुए बताया कि जनपद को 3 सुपर जोन, 8 जोन व 26 सेक्टरों में विभाजित किया गया है, जनपद में 4 राजपत्रित अधिकारी यात्रा ड्यूटी पर लगे हैं व जनपद के सम्पूर्ण पुलिस बल के व्यवस्थापन की जानकारी दी गयी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इस बार की यात्रा में ड्रोन से भी मॉनीटरिंग की जा रही है।
आपात स्थिति एवं आपदा प्रबन्धन सम्बन्धी बिन्दु पर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जनपद में एसडीआरएफ, एनडीआरएफ, जिला आपदा प्रबन्धन, फायर सर्विस का व्यवस्थापन है व आपसी समन्वय से कार्य किया जाता है। बताया गया कि आईजी गढ़वाल व पुलिस अधीक्षक के स्तर से पुलिस बल की ब्रीफिंग कर उनको ड्यूटी प्वाइन्टों पर भेजा गया है। बाहरी जनपदों से ड्यूटी पर आये पुलिस कार्मिकों हेतु मार्गदर्शिका व यात्रियों के लिए ब्रॉशर दिये जाने के बारे मे बताया। सचिव गृह ने केदारनाथ धाम यात्रा को सुरक्षित, सुगम बनाये जाने हेतु उचित उपाय, भीड़ नियंत्रण व प्रभावी यातायात व्यवस्था बनाये रखने के निर्देश दिये गये। तत्पश्चात गृह सचिव ने जिलाधिकारी कार्यालय सभागार में यात्रा व्यवस्थाओं की समीक्षा की गयी।