अंतर्राज्यीय गिरोह का भंडाफोड़, चार जेबकतरे गिरफ्तार

0
48

नैनीताल 13 मई। हल्द्वानी क्षेत्र में हो रही पाकेटमारी की वारदातों का खुलासा करते हुए पुलिस ने अंतर्राज्यीय जेबकतरा गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है। जिनके कब्जे से आठ हजार की नगदी व जेबतराशी कर निकाला गया बटुआ तथा अन्य सामान बरामद किया गया है। आरोपी पहले यूपी में वारदातों को अंजाम दे चुके है अब उन्होने उत्तराखण्ड का रूख किया था।
मिली जानकारी के अनुसार बीते रोज मुकेश कुमार सक्सेना पुत्र मुन्ना लाल निवासी आदर्शनगर तल्ली बमौरी हल्द्वानी द्वारा कोतवाली हल्द्वानी में तहरीर देकर बताया गया था कि वह मुरादाबाद से हल्द्वानी बस से आये थे, कालूशाही मन्दिर के पास बस से उतरते समय किसी अज्ञात चोर ने उनकी जेब काटकर पर्स चोरी कर लिया है। मामले में पुलिस ने तत्काल मुकदमा दर्ज कर जेबकतरों की तलाश शुरू कर दी गयी। जेबकतरों की तलाश में जुटी पुलिस टीम द्वारा जब घटनास्थल के पास के सीसी कैमरों को देखा गया तो चार संदिग्ध दिखायी दिये। जिन्हे पुलिस टीम द्वारा एक सूचना के बाद एफटीआई बाइपास के पास से गिरफ्तार कर लिया गया है। जिनके कब्जे से चोरी किया गया पर्स, 8 हजार की नगदी, आधार कार्ड , पैन कार्ड तथा अन्य सामान बरामद किया गया है। पूछताछ में उन्होने अपना नाम अरशद पुत्र जमील अहमद निवासी मोहल्ला कल्याण सिंह निवासी अटौडा रोड थाना मवाना मेरठ, फैजल अहमद पुत्र मुन्ना निवासी साउथ खालापार निकट मदीना मस्जिद दरोगा कोठी थाना खालापार मुजफ्फरनगर, अरशद पुत्र बाबू निवासी मोहल्ला कल्याण सिंह अटौडा रोड थाना मवाना मेरठ व शकील पुत्र रहीस अहमद निवासी मुमताज नगर गुलईस्ता गार्डन गली नम्बर 5 थाना लीसाड़ी गेट जिला मेरठ बताया। बताया कि उनके द्वारा पूर्व में मेरठ मुज्जफरनगर के आस पास बसों में व भीड भाड़ वाले स्थानों पर पॉकेटमारी की घटनाओं को अन्जाम दिया जाता था, इसके बाद उन्होने उत्तराखण्ड का रूख किया। बताया कि वह घटना से पूर्व रूद्रपुर आदि क्षेत्र में रूकते हैं तथा वहाँ से पहाड को आने वाली बसों में यात्री बनकर अलग अलग सीटों पर बैठ जाते हैं इसके बाद बस में किसी यात्री को चिन्हित कर यात्री के बस से उतरने पर चारों आरोपी उसके आगे पीछे खड़े होकर उसको उलझा देते हैं इस दौरान गिरोह का मुखिया अरशद पुत्र जमील अहमद यात्री की जेब से पर्स पार कर लेता है और उसके बाद जेब कतरी से मिले रूपयों का आपस में बंटवारा कर लिया जाता है। बहरहाल पुलिस ने उन्हे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है।