सनातन धर्म प्रहरी के रूप में सहायक निदेशक डॉक्टर घिल्डियाल को मिला परशुराम सम्मान

0
68

देहरादून 12 मई । सनातन धर्म के संरक्षण के लिए सहायक निदेशक शिक्षा एवं संस्कृत शिक्षा डॉ चंडी प्रसाद घिल्डियाल को वैदिक ब्राह्मण सभा ने परशुराम सम्मान से सम्मानित किया है।
भगवान परशुराम जन्मोत्सव समारोह के स्वर्ण जयंती समारोह के समापन अवसर पर राजधानी के आईआरटीसी सभागार में आयोजित राष्ट्रीय अलंकरण समारोह में उपस्थित विधानसभा अध्यक्ष रितु खंडूरी एवं टपकेश्वर महादेव पीठाधीश्वर स्वामी कृष्णानंद गिरी महाराज ने उन्हें यह महत्वपूर्ण सम्मान प्रदान करते हुए कहा कि वास्तव में डॉक्टर घिल्डियाल शिक्षा एवं संस्कृत शिक्षा के सहायक निदेशक होने के साथ-साथ ज्योतिष एवं श्रीमद् भागवत के अद्भुत विद्वान है, और वह अपनी विद्वत्ता से उत्तराखंड ही नहीं अपितु देश एवं विदेशों में भी सनातन धर्म प्रहरी के रूप में धर्म की पताका फहराने का कार्य कर रहे हैं।
सम्मान मिलने पर डॉक्टर घिल्डियाल ने वैदिक ब्राह्मण सभा का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उनका निरंतर प्रयास वैदिक धर्म को नई पीढ़ी में हस्तांतरित करने के लिए विभिन्न माध्यमों से जारी रहेगा, उन्होंने कहा कि इस प्रकार के सम्मान मिलने से जिम्मेदारी का अधिक बोध होने लगता है।
इस अवसर पर वैदिक ब्राह्मण सभा द्वारा न्याय, व्यापार, प्रशासन, चिकित्सा जैसे क्षेत्रों से भी कुछ विशिष्ट लोगों को सम्मानित किया गया । मौके पर कैंट विधायक सविता कपूर,पूर्व मेयर सुनील उनियाल,प्रसिद्ध कथावाचक सुभाष जोशी, पूर्व प्राचार्य ओमप्रकाश भट्ट,आचार्य पवन कुमार शर्मा, इजीनियर ओमप्रकाश वशिष्ठ, भरत राम तिवारी,उत्तराखंड विद्वतसभा के प्रदेश अध्यक्ष विजेंद्र मंमगाई सहित दिल्ली ,उत्तर प्रदेश और हरियाणा,पंजाब से भी सैकड़ो लोग उपस्थित थे।