गंगोत्री धाम के कपाट खुलने के साथ हुआ चारधाम का आगाज

0
57

उत्तरकाशी 10 मई । वैदिक मंत्रोच्चार, धार्मिक अनुष्ठान और जय मां गंगा के जयकारों के साथ अक्षय तृतीया के पर्व पर गंगोत्री और धाम के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए गए हैं।
शुक्रवार सुबह साढ़े सात बजे भैरों घाटी से गंगा जी की डोली यात्रा गंगोत्री के लिए रवाना हुई। साढ़े नौ बजे डोली गंगोत्री पहुंची और यहां गंगा लहरी एवं गंगा सहस्त्रनाम पाठ के साथ ही हर-हर गंगे के जयकारों से पूरा गंगोत्री गूंज उठा। तय मुहूर्त पर दोपहर शुक्रवार तड़के ही गंगोत्री धाम के कपाट ओपन के लिए मां गंगा की डोली ने भैरव घाटी से प्रस्थान किया। इससे पहले भैरव घाटी में मां गंगा की विशेष पूजा अर्चना की। जिसके बाद मां गंगा की डोली यात्रा गंगोत्री धाम के लिए रवाना हुई। धाम में गंगा की विशेष पूजा-अर्चना की गई। पहले ही दिन हजार यात्रियों ने गंगोत्री धाम पहुंचकर गंगा जी के दर्शन और पूजा-अर्चना का पुण्य लाभ अर्जित किया। मंदिर समिति के सचिव सुरेश सेमवाल ने बताया कि विधि-विधान के साथ शुभ मुहूर्त में ठीक 12.25 बजे गंगोत्री धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए हैं। 12.25 पर गंगोत्री मंदिर के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए गए हैं. इस पल के कई लोग साक्षी बनें।