दहशतः गौशाला में गाय-भैसों के साथ बैठा था गुलदार

0
53

नैनीताल 12अप्रैल । वन प्रभाग तराई पश्चिमी के अंतर्गत पड़ने वाले रामनगर रेंज के कंचनपुर छोई क्षेत्र में गाय भैसों की गौशाला में गाय भैसों के साथ गुलदार बैठा दिखाई दिया। यह गुलदार घायल था। जोकि संभवता अपनी जान बचाने के लिए यह गौशाला में घुस गया। घायल गुलदार को वन विभाग की टीम ने रेस्क्यू कर उपचार किया शुरू कर दिया है।
रामनगर वन प्रभाग तराई पश्चिम के अंतर्गत पड़ने वाले रामनगर के कंचनपुर छोई गांव में शुक्रवार को सुबह जब एक महिला अपनी गाय भैंसों की गौशाला में गोबर उठाने के लिए गई, तो गाय भैंसों के बगल में गुलदार को देख भौचक्की रह गई। महिला चीखते हुए गौशाला से बाहर निकली। गौशाला से निकलकर उसने शोर मचाया। आसपास के लोगों ने तुरंत ही गुलदार के गौशाला में होने की सूचना वन विभाग के कर्मचारियों को दी।
सूचना पाकर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई। वहीं गौशाला मालिक हरिहर सिंह बिष्ट ने बताया कि शुक्रवार सुबह जब उनकी मम्मी गौशाला में पशुओं का गोबर उठाने के लिए गई तो गौशाला में गुलदार हमारे पशुओं के साथ बगल में बैठा था। उन्होंने कहा कि गुलदार घायल था। इसकी सूचना वन विभाग को दी गई। उन्होंने कहा कि वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर गुलदार का रेस्क्यू किया।
वही मौके पर पहुंचे तराई पश्चिम के एसडीओ संदीप गिरि ने कहा कि हमें सूचना मिली थी कि कंचनपुर छोई में एक गुलदार गौशाला के अंदर घायल अवस्था में बैठा है। उन्होंने कहा कि गुलदार की सूचना पाकर हमारे द्वारा और कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉक्टर दुष्यंत शर्मा द्वारा गुलदार को ट्रेंकुलाइज कर सुरक्षित रेस्क्यू करते हुए उसका उपचार किया जा रहा है। गुलदार की उम्र लगभग 5 से 6 वर्ष है।