मादक पदार्थ के साथ दो तस्कर धरे एसओजी व कोतवाली पुलिस ने बरामद किया एक करोड का गांजा तस्करी में प्रयुक्त ट्रक भी बरामद, पुलिस ने जेल भेजे

0
94

शामली। एसओजी शामली एवं थाना कोतवाली शामली पुलिस की संयुक्त कार्यवाही में दो मादक पदार्थ तस्करों को गिरफ्तार किया गया है, जिनके कब्जे से करीब एक करोड की कीमत का अवैध 181.53 किलो ग्राम गांजा व तस्करी में प्रयुक्त ट्रक बरामद किया गया है। दोनों तस्करों को पुलिस ने चालानी कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया।
सदर कोतवाली में प्रेसवार्ता करते हुए एसपी अभिषेक ने बताया कि एसओजी शामली एवं थाना कोतवाली शामली पुलिस की संयुक्त टीम ने मादक पदार्थ की तस्करी की सूचना पर कार्यवाही करते हुए सिम्भालका बाईपास शामली-मेरठ रोड़ से दो मादक पदार्थ तस्करों को 181.53 किलो ग्राम गाजा व तस्करी में प्रयुक्त एक ट्रक सहित गिरफ्तार करने में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त की है। गिरफ्तारी एवं बरामदगी के संबंध में थाना कोतवाली शामली पर सुसंगत धाराओं में अभियोग पंजीकृत कर आवश्यक वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। गिरफ्तार अभियुक्तों के आपराधिक इतिहास की जानकारी की जा रही है। पकड़े गए तस्करों ने अपने नाम राजीव शर्मा पुत्र धर्मवीर शर्मा निवासी ग्राम मालेण्डी थाना गढीपुख्ता जनपद शामली व शाह मौहम्मद उर्फ शान पुत्र मौहम्मद तहसीन निवासी मौहल्ला मीरा रैती कस्बा गढ़ थाना गढ़मुक्तेश्वर जनपद हापुड़ बताए। पुलिस पूछताछ में अभियुक्त राजीव शर्मा ने बताया कि उसका 2007 से टूर एण्ड ट्रेवल्स का काम है। पहले वह दिल्ली में नौकरी करता था। बस मालिकों से उनकी बसों को किराए पर लेकर सवारियों, मजदूरों को भारत भ्रमण पर भेजता था, लेकिन 2019 में कोरोना के कारण काम बन्द हो गया, जिससे वह वापस शामली आ गया। आर्थिक स्थिति सही होने पर दोबारा करनाल अनाज मण्डी के पास टूर एण्ड ट्रैवल्स का काम शुरु किया और अपना आफिस खोल लिया, लेकिन वर्ष 2020 में कोरोना में काम बन्द होने की वजह से उस पर काफी कर्जा हो गया। उसी दौरान उसकी जान पहचान नेपाल के काठमांडू निवासी दादा वीरगंज से हो गई, जिसके कहने पर हरी घास(गांजा) की तस्कर शुरू कर दी। वह उक्त मादक पदार्थ को अगरतला से लेकर आ रहा था, लेकिन शामली पुलिस ने उसे पकड लिया।

रिर्पोट : सिद्धार्थ भारद्वाज प्रभारी जनपद शामली उ०प्रदेश।