500 साल बाद अयोध्या आ रहे श्रीरामः जगद्गुरु राज राजेश्वराश्रम महाराज अयोध्या में मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा सबके लिए बड़े सौभाग्य का पल, बलभद्र मंदिर से निकाली गयी श्रीराम की भव्य शोभायात्रा, हुआ भव्य स्वागत शिव बलभद्र मंदिर में आज होगी देव प्रतिमाओं की भव्य प्राण प्रतिष्ठा

0
255

शामली। शहर के बुढ़ाना रोड स्थित श्री शिव बलभद्र मंदिर में शारदापीठाधिश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी राज राजेश्वराश्रम जी महाराज द्वारा सोमवार को देव प्रतिमाओं की भव्य प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। इस मौके पर रविवार को मंदिर से श्रीराम की भव्य शोभायात्रा निकाली गयी जिसका शहर में विभिन्न स्थानों पर जोरदार स्वागत व पुष्प वर्षा भी की गयी।
जानकारी के अनुसार शिव बलभद्र मंदिर में चल रहे देव प्रतिमाओं के प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दौरान रविवार को शारदापीठाधिश्वर जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी राज राजेश्वराश्रम जी महाराज ने श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए कहा कि अयोध्या में भगवान श्रीराम के मंदिर की भव्य प्राण प्रतिष्ठा समारोह हम सबके लिए बहुत बड़े उत्सव का दिन है। उन्होंने कहा कि 500 साल के इंतजार के बाद भगवान श्रीराम अब विराजमान हो रहे हैं। सोमवार को मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा है, इस दिन का सबको इंतजार था जो अब खत्म हो गया है। हम सब लोग इस पवित्र दिन, पवित्र पल व पवित्र समय के साक्षी हैं, यह हमारे के लिए बडे सौभाग्य का पल है। किस्मत वालों को ही ऐसा दिन देखने को मिलता है। उन्होंने कहा कि किसी पुराने मंदिर का जीर्णोद्धार करने से सौ गुना फल की प्राप्ति होती है। जिस तरह पूरे देश के लोगों ने इस प्रयास को पूरा किया, इसके लिए सभी को सुख समृद्धि की प्राप्ति होगी। उन्होंने कहा कि सनातन धर्म हिन्दू धर्म साश्वत है। उन्होंने ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण को पैदा हुए साढ़े पांच हजार साल हो गए हैं जबकि श्रीराम को पैदा हुए नौ लाख साल हो गए। सनातन धर्म हिन्दू धर्म नौ लाख साल से भी पहले से है। भारत का केवल एक ही धर्म है वह है सनातन धर्म। शंकराचार्य राज राजेश्वराश्रम जी महाराज ने कहा कि अपने बुजुर्गों व माता पिता की सेवा करनी चाहिए। माता-पिता को भी अपने बच्चों के अंदर अच्छे संस्कार पैदा करने चाहिए, उन्हें अपने धर्म के बारे में बताना चाहिए। भगवान श्रीराम मर्यादा पुरुषोत्तम थे। श्रीराम हम सबके दिलों में वास करते हैं। इस अवसर पर यजमान संदीप संगल, अमित बंसल, अनिल बंसल, संजू अग्रवाल, नितिन गोयल, विनीत गोयल, अंकित गोयल, राजीव चौधरी, राहुल तायल भी मौजूद रहे। इससे पूर्व मंदिर प्रांगण से श्रीराम की भव्य शोभायात्रा निकाली गयी जिसका शहर में विभिन्न स्थानों पर जोरदार स्वागत व पुष्प वर्षा भी की गयी। शोभायात्रा मंदिर से प्रारंभ होकर विभिन्न मार्गों से उल्लास एवं उमंग से निकाली गयी। शोभायात्रा में भगवान श्रीराम, माता सीता, लक्ष्मण, हनुमानजी की भी झांकी निकाली गयी जो लोगों के आकर्षण का केन्द्र बनी रही। कई स्थानों पर श्रद्धालुओं ने भगवान श्रीराम का आशीर्वाद भी लिया। सोमवार को दोपहर बाद विशाल भंडारा व शाम के समय संकीर्तन का आयोजन किया जाएगा।
रिर्पोट : सिद्धार्थ भारद्वाज जिला प्रभारी जनपद शामली उ०प्र०।