डीजीपी अभिनव कुमार ने ली फायर सर्विस के कार्यों की समीक्षा बैठक

0
82

देहरादून 27 दिसम्बर । श्री अभिनव कुमार, पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड द्वारा पुलिस मुख्यालय में फायर सर्विस के कार्यों की समीक्षा की गयी, जिसमें अमित सिन्हा, अपर पुलिस महानिदेशक, प्रशासन, वी गुरूगेशन, अपर पुलिस महानिदेशक, पुलिस दूरसंचार, श्रीमती नीरू गर्ग, पुलिस महानिरीक्षक, फायर, श्रीमती निवेदिता कुकरेती, पुलिस उप महानिरीक्षक, फायर सहित अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे।
श्रीमती नीरू गर्ग, पुलिस महानिरीक्षक, फायर द्वारा फायर सर्विस की जनशक्ति, उपकरणों की वर्तमान स्थिति, चुनौतियों, नई पहलों एवं भविष्य की कार्ययोजना पर प्रस्तुतिकरण दिया गया।
अमित सिन्हा,अपर पुलिस महानिदेशक, प्रशासन ने कहा कि वर्तमान में 368 फायरमैन प्रशिक्षणाधीन हैं, जिसमें 100 पुरूष व 268 महिलाएं हैं। फायर सर्विस में महिला फायरमैन नियुक्त करने में उत्तराखण्ड 8वां राज्य है। MDT/GPS के प्रयोग से रिस्पांस टाईम Minimize करें। अग्निशमन वाहनों पर GPS लगाये जाने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।
समीक्षा बैठक में पुलिस महानिदेशक महोदय द्वारा फायर रिस्पांस टाइम सुधारने और फायर कर्मियों के प्रशिक्षण पर भी जोर देने हेतु निम्न दिशा-निर्देश दिये गये-
1.ऐसे क्षेत्रों एवं स्थानों का चिन्हिकरण कर लें, जहां आग लगने की अधिक संभावना हो या आग लगने की प्रवृत्ति अधिक हो। साथ ही उससे बचाव के लिए कार्ययोजना बनाएं।
2.अग्निशमन विभाग द्वारा आम जनमानस को प्रदान की जाने वाली सेवाओं को पारदर्शी एवं समयबद्ध करने हेतु निर्देशित किया।
3.टीम बनाकर जनपदों में औद्योगिक इकाई सहित अन्य भवनों का आकस्मिक निरीक्षण कर उनका फायर सेफ्टी ऑडिट करें।
4.अग्निशमन कर्मियों के प्रशिक्षण के लिए फायर सर्विस प्रशिक्षण केन्द्र हेतु भूमि चिन्हिकरण करने के निर्देश दिए।
5.अग्निसुरक्षा उपकरणों एवं वाहनों का भी ऑडिट कर लें, जिससे इनका पूरी क्षमता के साथ उपयोग किया जा सके।