हवाला ऑपरेटर गुजरात से गिरफ्तार,करोड़ों की धोखाधड़ी का खुलासा

0
122

आरोपी की 17 राज्यों की पुलिस को थी तलाश
देहरादून 25 दिसंबर। देश भर में लगभग 15 करोड़ 20 लाख रूपये की धोखाधड़ी का खुलासा करते हुए एसटीएफ की साइबर क्राइम पुलिस द्वारा एक शातिर को गुजरात से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी की तलाश 17 राज्यों की पुलिस को थी जिस पर देश भर में 102 साइबर शिकायतें दर्ज है।
एसटीएफ कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार बीते दिनों देहरादून निवासी एक व्यक्ति द्वारा साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया गया था कि उसके साथ एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा व्ह्टसएप के माध्यम से सम्पर्क कर स्वंय को 99 एकड एंड एल टी कंस्ट्रशन कंपनी के कर्मचारीध् अधिकारी बताकर पार्ट टाईम जॉब के नाम पर टेलीग्राम ग्रुप में जोडकर आगे के कार्य का टास्क देकर सभी टेलीग्राम हैंडल पर निवेश पर 30/40 प्रतिशत के लाभ का आश्वासन देकर भिन्न-भिन्न तिथियों में भिन्न-भिन्न लेन देन के माध्यम कुल 34,08,575.62 (चैतीस लाख आठ हजार पाँच सौ पिचहत्तर रुपये बासठ) रुपये की धोखाधड़ी की गयी है। मामले में साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी। जांच के दौरान घटना में तकनीकी विश्लेषण से प्रकाश में आये आरोपी हण्टर इरीच पुत्र पूजवेल्ट निवासी 9बी राजीवनगर, नारोल कोर्ट की पिछे, नारोल अहमदाबाद गुजरात को गुजरात से गिरफ्तार किया गया। साइबर क्राइम पुलिस के अनुसार हण्टर इरीच के खिलाफ देश भर में 102 शिकायतें दर्ज है तथा आरोपी के खाते से विगत तीन माह में लगभग 15 करोड़ 20 लाख से ज्यादा का ट्रांजैक्शन किया गया है।
साइबर क्राइम पुलिस के अनुसार गिरफ्तार किये गये इस हवाला ऑपरेटर द्वारा अपराध को अंजाम देने के लिए एक फर्जी शैल कंपनी शाह इंटरप्राइज के नाम से खोली गई जिसको इसने मोहाली पंजाब में खोला। इसी शैल कंपनी के नाम पर इसके द्वारा विभिन्न बैंकों खाते खुलवाए गए जिससे यह और इसके साथियों द्वारा ही अपराध में ठगी के करोड़ों रुपए की ट्रांजैक्शन (लेनदेन) को अलगकृअलग कंपनियों के विभिन्न करंट अकाउंट में भेज सके। गिरफ्तार आरोपी से लगभग 14 विभिन्न बैंक खातों की के दस्तावेज भी प्राप्त हुए हैं। आरोपी एवं उसके साथियों द्वारा देश भर के लगभग 17 राज्यों में साइबर ठगी को अंजाम दिया गया है।