‘‘विजय दिवस‘के अवसर परआयोजित कार्यक्रम में जिलाधिकारी मयूर दीक्षित ने पूर्व सैनिकों को शॉल ओढ़ाकर किया सम्मानित

0
84

53वां ‘‘विजय दिवस‘‘ जनपद टिहरी में पूर्ण श्रद्धा एवं सम्मान के साथ मनाया गया।

टिहरी 16 दिसंबर । ‘‘विजय दिवस‘‘ के अवसर पर शनिवार को जिला मुख्यालय स्थित युद्ध स्मारक बौराडी नई टिहरी में कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम में जिलाधिकारी मयूर दीक्षित द्वारा मुख्य अतिथि के रूप में प्रतिभाग कर वीर शहीद सैनिकों को पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। कार्यक्रम में वीर शहीदों की वीरांगनाओ/आश्रितों एवं पूर्व सैनिकों को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम में 342 फील्ड रेजिमेंट के दल नायक नायब सूबेदार वीरेंद्र कुमार पटनायक के नेतृत्व में 11 सदस्यीय जवानों द्वारा शहीद वीर सपूतों को गार्ड ऑफ ऑनर देकर सलामी देते हुए श्रद्धांजलि दी गई। 6 ग्रेडिनियर द्वारा मधुर सेना बैंड धुन का प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर स्कूली बच्चों द्वारा स्वागत गीत, देशभक्ति गीत एवं विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। एसएसपी नवनीत सिंह भुल्लर, जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कर्नल योगेन्द्र कुमार (अ.प्रा.), पूर्व सैनिक इन्द्र सिंह नेगी, खण्ड शिक्षा अधिकारी एन.के. हल्द्वानी, ईओ नगरपालिका टिहरी एच.एस. रौतेला सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों द्वारा शहीदों के चित्रों पर पुष्प चक्र एवं पुष्प मालाएं अर्पित कर श्रद्धांजली दी गयी।
इस मौके पर जिलाधिकारी ने वीर शहीद सैनिकों को नमन करते हुए कहा कि आज के मुख्य अतिथि कार्यक्रम में उपस्थित शहीदों की वीरांगनाएं/आश्रित एवं पूर्व सैनिक हैं, जिनके त्याग, तपस्या से विजय दिवस मनाया जा रहा है। जिलाधिकारी ने कहा कि वीर सैनिकों एवं उनके आश्रितों हेतु कई योजनाएं संचालित की जा रही हैं, सभी संबंधित अधिकारियों को योजनाओं का लाभ दिये जाने हेतु निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने कहा कि स्मारक प्रांगण में टीन शेड लगाये जाने हेतु कार्यवाही चल रही है, जिसे अगले बरसात से पहले पूर्ण कर लिया जायेगा।
जिलाध्यक्ष भाजपा राजेश नौटियाल ने विजय दिवस की बधाई देते हुए कहा कि वीर सैनिकों के सम्मान में इस तरह के कार्यक्रमों तक ही सीमित न रहकर वीरांगनाओं /आश्रितों की स्थिति की जानकारी रखना, किस तरह से उनकी मदद की जा सकती है, यह सोचनीय विषय हैं। इसके साथ ही पूर्व सैनिकों के प्रति सम्मान का भाव प्रत्येक के आचरण में हो।
इससे पूर्व जिला सैनिक कल्याण एवं पुनर्वास अधिकारी कर्नल योगेन्द्र कुमार (अ.प्रा.) ने बताया कि वीर सैनिकों के आश्रितों एवं पूर्व सैनिकों की किसी भी तरह की समस्या को जिला प्रशासन द्वारा प्राथमिकता पर लेकर समाधान किया जाता है। इसके साथ ही पुलिस प्रशासन द्वारा भी सैनिकों के कल्याण हेतु प्रकोष्ठ खोला गया है।
इस मौके पर केप्टन डी.एस. बागरी सहित जनप्रतिनिधि उदय सिंह रावत, प्रमोद उनियाल, विजय कठैत,उर्मिला राणा, अनूसूया नौटियाल,विनोद रतूड़ी,खेम सिंह चौहान,पंकज पंवार,राकेश राणा सहित जनपद स्तरीय अधिकारी, शहीदों के परिजन,पूर्व सैनिक,मीडिया प्रतिनिधि, स्कूली बच्चे एवं क्षेत्रीय जनता मौजूद रहे।