पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने की बिधूडी पर हेट स्पीच का मुकदमा दर्ज कराने की मांग

0
37

हरिद्वार। उत्तराखण्ड के पहाड़ी व्यंजनों के प्रचार प्रसार के लिए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की ओर से हरिद्वार में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें पहाड़ी रायता, झंगोरे की खीर आदि उत्तराखंडी व्यंजन परोसे गए। इस दौरान मीडिया से बातचीत में पूर्व सीएम हरीश रावत ने भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी पर संसद में हेट स्पीच देने का आरोप लगाते हुए कड़ी प्रतिक्रिया दी। बिधूड़ी पर मुकदमा दर्ज कराने की मांग की पैरवी भी की।
देवपुरा स्थित एक आश्रम में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि रमेश बिधूड़ी ने संसद और उसकी परम्पराओं का घोर अपमान किया है। वह बेहद निंदनीय है। ऐसे सांसद को संसद से ही नहीं उस पार्टी से भी निलंबित कर देना चाहिए। हरीश रावत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी अपील की है कि वे ऐसे सांसद पर कठोर कार्रवाई करें।
कार्यक्रम के उद्देश्य के बारे में जानकारी देते हुए पूर्व सीएम हरीश रावत ने कहा कि पहाड़ी व्यंजनों की राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए वह प्रयासरत हैं। जनता से अपील करते हुए कहा कि प्रदेश के व्यंजन न सिर्फ स्वाद में अच्छे हैं, बल्कि स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक हैं। मीडिया से बातचीत में हरीश रावत ने कहा कि केंद्र सरकार चुनावों से भागती हुई नजर आ रही है। दावा किया कि अगले विधानसभा चुनावों में देश के छह राज्यों में कांग्रेस सरकार आ रही है। यही कारण है कि वन नेशन वन इलेक्शन की थ्योरी को आगे बढ़ाया जा रहा है।इस दौरान पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, महानगर अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी, पीसीसी सदस्य मुरली मनोहर, विरेंद्र रावत, जगत सिंह रावत सहित कांग्रेसी नेता व बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद रही।