मामूली विवाद में दोस्त ने ही की थी दोस्त की हत्या, गिरफ्तार।

0
42

लावारिस शव की शिनाख्त कर हत्यारे तक पहुंची पुलिस।

हरिद्वार। आर्यनगर चैक के पास मिले अज्ञात शव की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त पत्थर भी बरामद किया है। गिरफ्तार हुआ आरोपी मृतक का दोस्त निकला जिसने मामूली विवाद के चलते इस हत्याकांड को अंजाम दिया था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रमेंद्र डोभाल ने बताया कि बीते 11 सितम्बर को ज्वालापुर थाना क्षेत्रान्तर्गत आर्य नगर चैक के पास एक अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद किया गया था। प्रथम दृष्ट्या मृत्यु का कारण वाहन की चपेट में आना प्रतीत हो रहा था। पुलिस द्वारा शव का पंचायतनामा भरकर पोस्टमार्टम की कार्यवाही की गई व शव को जिला अस्पताल स्थित शवग्रह में रखवाया गया। लगातार प्रयास के पश्चात शव की पहचान जयदेव निवासी बंगाल के रूप में हुई जो काफी समय से ज्वालापुर क्षेत्र में रहकर मजदूरी का कार्य कर रहा था। मामले में बीते रोज राजेश खंडूजा पुत्र आरडी खंडूजा निवासी आर्य नगर चैक ज्वालापुर की शिकायत पर कोतवाली ज्वालापुर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गयी। दर्ज मुकदमें में हत्या की संभावना को परखते हुए रेल चैकी प्रभारी विकास रावत के नेतृत्व में पुलिस टीम ने घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज का विश्लेषण करते हुए संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ की गई। विवेचना के क्रम में संदिग्ध व्यक्ति की जानकारी मिलने पर पुलिस ने एक व्यक्ति को रेलवे स्टेशन ज्वालापुर से दबोच लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम मोहन पुत्र शिवजी बैठा निवासी भवानीपुर थाना संग्रामपुर मोतिहारी जिला बिहार बताया। बताया कि वह मृतक के साथ काफी वर्षों से मजदूरी कर रहा था। साथ में नशा करने के दौरान किसी बात को लेकर विवाद होने पर उसने भारी पत्थर से सिर कुचलकर अपने साथी की हत्या कर दी और गिरफ्तारी के डर से जिले से बाहर भागने की जुगत में रेलवे स्टेशन पहुंच गया। पुलिस ने आरोपी की निशांदेही पर हत्या में प्रयुक्त पत्थर भी बरामद कर लिया है। जिसे न्यायालय में पेश कर जेल भेज दिया गया है।