मुझे किसी भी प्रकार का दबाव कमजोर नहीं कर सकताः डा. हरक

0
196

विजिलेंस की कार्रवाई के बाद विपक्षियों पर बरसे पूर्व मंत्री

बोले मेरी किस्मत में जनता की सेवा करना लिखा होगा तो कोई रोक नहीं सकता

देहरादून। हरिद्वार लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर कर चुके हरक सिंह रावत के लिए अब कांग्रेस से टिकट लेना उतना आसान नहीं होगा। इस सीट पर हरीश रावत से प्रतिद्वंद्विता और अब विजिलेंस की छापेमारी के चलते हरक सिंह रावत की लोकसभा सीट को लेकर मुश्किलें बढ़ती हुई नजर आ रही है। हालांकि, हरक सिंह रावत ने भी पार्टी में अपने विरोधियों के सपने साकार न होने का संदेश दे दिया है। गौर हो कि एक दिन पहले ही पूर्व वन मंत्री हरक सिंह रावत के प्रतिष्ठानों पर विजिलेंस ने छापेमारी की कार्रवाई की है। दरअसल, पूर्व कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत हरिद्वार लोकसभा सीट पर चुनाव लड़ने की इच्छा जाहिर कर चुके हैं। उधर, इसी सीट से पूर्व मुुख्यमंत्री हरीश रावत भी चुनाव लड़ना चाहते हैं। देखा जाए तो कांग्रेस पार्टी के भीतर सीधे तौर से हरक सिंह रावत की इस इच्छा के खिलाफ हरीश रावत खड़े होते दिखाई दे रहे हैं।
विजिलेंस की कार्रवाई के बाद हरक सिंह रावत ने प्रतिक्रिया दी है। इस छापेमारी के पीछे अपनी ही पार्टी के कुछ लोगों के शामिल होने की आशंका को लेकर जब हरक से सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वो इस बात को नहीं जानते, लेकिन वो इतना जरूर कहेंगे कि जो भी यह सपना देख रहा है, उसका सपना साकार नहीं होगा।
बातचीत के दौरान हरक सिंह रावत ने अपने भविष्य की राजनीति को लेकर भी स्थिति स्पष्ट की। उन्होंने कहा कि कोई भी उनकी राजनीति क्या खत्म करेगा, क्योंकि सांसद बनने के लिए लोग तरसते हैं, लेकिन वो 6 बार विधायक चुनकर विधानसभा जा चुके हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने 9 बार मंत्री के स्टेटस या मंत्री पद पर भी काम किया है। उन्होंने कहा कि उन्हें जितना सम्मान चाहिए था, उतना मिल चुका है।