40 पूर्व विधायक आश्रितों को मिल रही है 8.69 लाख रूपये प्रति माह पेंशन।

0
307

देहरादून। उत्तराखंड में चाहे विभिन्न सरकारी कर्मचारियोें के आश्रितों को उनकी मृत्यु के उपरान्त पेंशन की व्यवस्था समाप्त कर दी गयी हो, लेकिन विधायकों के आश्रितों के लिये यह व्यवस्था अभी भी जारी हैै। उत्तराखंड के 40 पूूर्व विधायकों के आश्रितोें को 8 लाख 69 हजार 250 रूपये प्रतिमाह पेंशन सरकार के खजाने से मिल रही है।
काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन (एडवोकेट) ने उत्तराखंड विधानसभा के लोक सूचना अधिकारी सेे पूर्व विधायकों व उनके आश्रितों को मिल रही पेेंशन से संबंधित सूचनायें मांगी गयी थी। इसके उत्तर में विधानसभा सचिवालय के लोक सूचना अधिकारी, उपसचिव (लेखा) हेम चन्द्र पन्त ने पूूर्व विधायकों तथा उनके आश्रितों को मिल रही पेंशन सम्बन्धी सूची अपने पत्रांक 460 के साथ उपलब्ध करायी गयी हैै।
नदीम को उपलब्ध सूचना के अनुसार उत्तराखंड में 40 पूर्व विधायकों के आश्रितों को हर माह कुल 8, 69, 250 रूपये की पेंशन दी जा रही हैै। जबकि 88 पूर्व विधायक पेंशन प्राप्त कर चुके है तथा 95 पूर्व विधायकोें को 52 लाख 73 हजार 900 रू. प्रति माह की पेेंशन मिल रही हैै।
उपलब्ध सूचना के अनुसार सर्वाधिक 63500 रू. पेंशन पूर्व विधायक नारायण दत्त तिवारी की पत्नी उज्जवला तिवारी को मिल रही है। जबकि सबसे कम 10 हजार की पेंशन वालों में प्रताप सिंह पुष्पवान की पत्नी इन्द्रा पुष्पवान, सत्येन्द्र चन्द्र गुडिया की पत्नी विमला गुड़िया, हरीदत्त काण्डपाल की पत्नी पार्वती देवी तथा चारू चन्द्र ओझा की पत्नी हरिप्रिया ओझा को मिल रही है।
२० हजार की पेंशन पाने वाले पूर्व विधायकों के आश्रितों में सुलतान सिंह भंडारी की पत्नी सरस्वती भण्डारी, फूल सिंह बिष्ट की पत्नी प्रभावति बिष्ट, योगम्बर सिंह रावत की पत्नी कमला रावत, विघासागर नौटियाल की पत्नी देवेश्वरी नाौैटियाल, साधू राम की पत्नी सुशीला देवी, किशोरी लाल सकलानी की पत्नी शकुन्तला सकलानी, लीला राम शर्मा की पत्नी बसन्ती शर्मा, हीरा सिंह बोरा की पत्नी भागीरथी बोरा, भोला दत्त पाण्डे की पत्नी मनोरमा पाण्डे, लोकेन्द्र दत्त सकलानी की पत्नी निशा रानी सकलानी, विपिन चन्द्र त्रिपाठी की पत्नी रेनु त्रिपाठी, ब्रहम दत्त की पत्नी ऊषा दत्त, देवेबहादुर सिंह की पत्नी कमला सिंह, पूरन सिंह माहरा की पत्नी माया माहरा, सुरेन्द्र राकेश की पत्नी ममता राकेश, खडक सिंह बोहरा की पत्नी कला बोहरा, सूरत चन्द्र रमोला की पत्नी कुसुम रमोला, पूरन चन्द्र की पत्नी माया देवी, शूरवीर सिंह की पत्नी सावित्री देवी, बरफिया लाल जुवांठा की पत्नी शान्ति जुवांठा, लाखन सिंह की पत्नी कान्ता देवी, गोविन्द सिंह मेहरा की पत्नी कौशिल्या मेहरा, मगन लाल शाह की पत्नी मुन्नी देवी तथा गुलाब सिंह की पत्नी रूपा देवी शामिल हैै।
22 हजार से 25 हजार तक की पेंशन पाने वाले पूर्व विधायकों के आश्रितों में बच्ची सिंह रावत की पत्नी चम्पा रावत, तेजपाल सिंह पंवार की पत्नी चम्पा देवी, कौल दास की पत्नी बसन्ती देवी, रणजीत सिंह वर्मा की पत्नी निर्मला सिंह, बृजमोहन कोटवाल की पत्नी विजयलक्ष्मी तथा अम्बरीश कुमार की पत्नी प्रतिभा शामिल हैै।
26 हजार से 30 हजार तक की पेंशन पाने वाले पूर्व विधायकों में कृष्ण चन्द्र पुनेठा की पत्नी विघा पुनेठा, गोपाल सिंह रावत की पत्नी शान्ति रावत तथा डा. अनुसूया प्रसाद मैखुरी की पत्नी सावित्री देवी मैखुरी शामिल है। सुन्दर सिंह मन्द्रवाल की पुत्री देवेन्द्री मन्द्रवाल को 35500 रूपये पेंशन मिल रही हैै। उपलब्ध सूचना के अनुसार ऐसे 88 भूतपूर्व विधायक है जो यह पेंशन प्राप्त कर चुके हैं।