योग भूमि उत्तराखंड में योग का अतीत, वर्तमान और भविष्य” विषय पर पीएचडी प्रदान की गई

0
27

देहरादून 02 जून । महाराजा अग्रसेन हिमालयन गढ़वाल विश्वविद्यालय पोखड़ा के तृतीय दीक्षांत समारोह में उत्तराखंड में योग के फील्ड में महत्वपूर्ण कार्य कर रहें दून योग पीठ देहरादून के संस्थापक आचार्य डा0 बिपिन जोशी को “योग भूमि उत्तराखंड मे योग का अतीत, वर्तमान और भविष्य” विषय पर पी एच डी प्रदान की गई।
डा जोशी ने अपना शोध कार्य योग निकेतन ऋषिकेश के डा0 गौरव वत्स के दिशा निर्देश में लगभग 4 साल में पूर्ण किया।
जोशी ने बताया देवभूमि उत्तराखंड के गांवों को योग और आर्युवेद ग्राम के रूप में विकसित कर पलायन को रोका जा सकता है, साथ ही रिवर्स पलायम में भी योग महत्वपूर्ण भुमिका निभा सकता है।