पारा चढ़़ने से फिर सुलगने लगे जंगल

0
82

कोटद्वार 16 मई । तीन दिन पूर्व हुई वर्षा से जंगलों में विकराल हुई आग ठंडी पड़ गई थी। किन्तु पिछले दो दिन से लगातार चढ़ रहे पारे से एक बार फिर जंगलों में आग लगनी शुरू हो गई है। गर्मी के मौसम में जंगलों में आग लगने की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। अप्रैल माह के अंत से ही लगातार जंगल धधक रहे थे। स्थिति वन विभाग के कंट्रोल से बाहर हो चुकी थी। ऐसे में तीन दिन पूर्व हुई वर्षा ने जंगलों की आग को शांत किया।
लेकिन, अब दोबारा पारा चढ़ने के साथ ही जंगलों में आग की घटना बढ़ने लगी हैं। देवीखाल-गुमखाल के मध्य आग लगने से कई हेक्टेयर क्षेत्र में फैली वन संपदा जलकर खाक हो गई। आग गांव व व्यवसायिक प्रतिष्ठानों तक न पहुंचे। इसके लिए ग्रामीण आसपास के क्षेत्र में चीड़ की पत्तियों को साफ करते हुए नजर आए। धुएं के कारण राष्ट्रीय राजमार्ग में भी गहरी धुंध छाई हुई है।