40 लाख की ठगी में दो वर्षो से फरार ईनामी तांत्रिक गिरफ्तार

0
60

देहरादून 15 मई। हरिद्वार की महिला को उसकी घरेलू परेशानी को तंत्र मंत्र से दूर करने का झांसा देकर 40 लाख की ठगी करने वाले एक तांत्रिक को एसटीएफ द्वारा दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है। आरोपी तांत्रिक दो वर्षो से फरार था जिस पर पुलिस द्वारा 15 हजार का ईनाम भी घोषित किया गया था।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ, आयुष अग्रवाल द्वारा जानकारी देते हुये बताया कि वर्ष 2022 में थाना कोतवाली गंगनहर रुडकी जिला हरिद्वार में एक महिला से तांत्रिक सुलेमान बाबा द्वारा उसके परिवार में किसी परिजन की असमय मृत्यु का होने का भय दिखाकर महिला से 40 लाख रूपये की ठगी कर ली गयी थी। जिस पर थाना गंगनहर में सुलेमान बाबा के नाम से धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज किया गया था परन्तु तांत्रित सुलेमान बाबा तभी से फरार चल रहा था। जिसकी गिरफ्तारी हेतु वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार द्वारा 15 हजार रूपये ईनाम की घोषणा की गयी थी। बताया कि आज एसटीएफ को तांत्रित सुलेमान बाबा के बारे में सूचना मिली कि सुलेमान बाबा आजाद अपार्टमेन्ट, मधुविहार दिल्ली में फ्लैट लेकर रह रहा है जिस पर एसटीएफ की टीम द्वारा दबिश देकर सुलेमान बाबा को आजाद अपार्टमेन्ट, मधुविहार दिल्ली से गिरफ्तार कर थाना गंगनहर हरिद्वार में दाखिल किया गया है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ, आयुष अग्रवाल द्वारा बताया गया कि वर्ष 2022 में थाना गंगनहर पर एक महिला द्वारा ने सूचना दी गयी थी कि उसके पति की मृत्यु कोरोना बीमारी के कारण माह मई, 2022 में तथा देवर की मृत्यु भी जुलाई 2021 में हार्ट अटैक से हो गयी थी, जिस वजह से वह महिला काफी परेशान हो गयी थी। उसने माह अक्टूबर 2021 में टीवी देखते हुए एक इश्तहार से सुलेमान बाबा जी उर्फ असरद खान का मोबाईल नम्बर देखा और उससे बात करी तो तांत्रिक द्वारा उसे बताया गया कि उसके परिवार पर मौत का खतरा मडरा रहा है अभी और मौते होनी है जिससे वह डर गयी और उसने इलाज के बहाने तांत्रिक सुलेमान बाबा को करीब 40 लाख रुपये दे दिये। जिस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर तांत्रिक बाबा की तलाश शुरू कर दी गयी लेकिन वह तभी से फरार चल रहा था।
पूछताछ में तांत्रिक सुलेमान बाबा उर्फ अरशद उर्फ इंतजार उर्फ भूरा ने बताया कि वह इस काम में विगत 15 सालों से लिप्त है उसके द्वारा पहले विज्ञापन दिये जाते है जिसके बाद उससे सम्पर्क करने वालों से रूपये ऐंठे जाते है। बताया कि उसके खिलाफ पूर्व में भी पांच मुकदमें दर्ज है। पकड़ा गया तांत्रिक दिल्ली मधुविहार क्षेत्र में एक रिहायशी अपार्टमेन्ट में फ्लैट खरीदकर रह रहा था। तांत्रिक ने अपने कई नाम रखे हैं जिससे वो आसानी पकड़ में नहीं आता था।