श्री कृष्ण अपनी बाल लीलाओं के द्वारा हमें प्रकृति प्रेम, गोपालन, पर्यावरण संरक्षण का देते है संदेश: आचार्य पवन

0
81

देहरादून 14 मई। श्रीमद् भागवत सेवा जनकल्याण समिति द्वारा पांचवें दिन कथा में आचार्य पवन नंदन जी महाराज के मुखारविंद द्वारा कथा का गुणगान किया, आचार्य ने भगवान कृष्ण की बाल लीलाओं का वर्णन किया। उन्होंने पूतना वध, कालिया मर्दन, गोचरण, माखन चोरी, गोवर्धन लीला आदि प्रसंग सुनाए।
उन्होंने कहा कि प्रभु इसके जरिए हमें प्रकृति प्रेम, गोपालन, पर्यावरण संरक्षण का संदेश देते हैं। इसके बाद भजन का सिलसिला चला। छटा तेरी तीन लोक से न्यारी है गोवर्धन महाराज…, अरे री मेरी मटकी फोड़ी मोहन मतवारे ने…,हाथ में माखन धूल भरा तन…। भजनों पर श्रद्धालु भाक्तिभाव में नाचने लगे। मुख्य यजमान पारस भंडारी प्रथम जोशी रहे
भक्ति में सराबोर हो गए आज के कार्यक्रम में उपस्थित महानगर अध्यक्ष देहरादून सिद्धार्थ उमेश अग्रवाल नरेंद्र सिह नेगी, पार्षद राजेश परमार, विनोद राई,अध्यक्ष प्रेम सिंह भंडारी,सचिव नवीन जोशी, गणेश,अभिषेक परमार,प्रदीप राई,कैलाश चंद भट्ट,केवलानंद लोहानी,प्रमिला नेगी, मालती राई, कैलाश भट्ट, गीता,विमला, सावित्री प्रधान,रीता राई,धन सिंह फर्त्याल,दीपक सिंह गोसाई,आदि मौजूद रहे।