लोकसभा चुनाव के लिए मतदान शुरू, बुजुर्ग और दिव्यांगजन डाल रहे वोट

0
72

नैनीताल 08 अप्रैल। उत्तराखंड में पोस्टल बैलेट यानी घर-घर जाकर मतदान कराने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जिसके तहत दिव्यांग और 80 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्गों के घर-घर जाकर मतदान कर्मी बैलेट पेपर के माध्यम से मतदान करवा रहे हैं। नैनीताल जिले में विभिन्न जगहों पर वोट डलवा रहे हैं। उधर, अल्मोड़ा जिले में 2,015 बुजुर्गों और दिव्यांगजनों से मतदान कराने को लेकर 131 पोलिंग पार्टियां रवाना हो चुकी है। उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव 2024 के लिए मतदान प्रक्रिया शुरू हो गई है। दिव्यांगजन और बुजुर्ग व्यक्तियों से घर पर ही मतदान कराने के लिए जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों में मतदान कर्मियों की 131 पोलिंग पार्टियों को रवाना किया गया। अल्मोड़ा के सिमकनी मैदान से अल्मोड़ा, जागेश्वर और सोमेश्वर विधानसभा क्षेत्र के लिए मतदान कार्मिकों को भेजा गया। उपजिला मजिस्ट्रेट और जयवर्धन शर्मा ने बताया कि लोकसभा चुनाव में वरिष्ठ मतदाताओं एवं दिव्यांग मतदाताओं से मतदान करवाने की व्यवस्था की गई है। इसका उद्देश्य किसी को भी मतदान से वंचित न रहने देने का है। इसके लिए दिव्यांग और 85़ आयु के मतदाताओं को घर घर जाकर वोट कराने के लिए अल्मोड़ा, जागेश्वर और सोमेश्वर विधानसभा के लिए मतदान पार्टियां सिमकनी मैदान से रवाना की गई है। द्वाराहाट विधानसभा के लिए मतदान पार्टियां इंजीनियरिंग कॉलेज द्वाराहाट से रानीखेत के लिए, रानीखेत से और सल्ट विधानसभा के लिए भिकियासैंण से रवाना हुई है। वहीं, दिव्यांग और 85़ आयु के मतदाताओं को घर-घर जाकर वोट कराने के लिए अल्मोड़ा से 39, सोमेश्वर 23, जागेश्वर 21, सल्ट 14, रानीखेत 18, द्वाराहाट 16 मतदान कार्मिकों की पार्टियों को रवाना किया गया है।