एसडीआरएफ बटालियन में दीक्षांत समारोह, प्रदेश को मिले 171 पुलिस कॉन्स्टेबल

0
51

देहरादून 31मार्च । जौलीग्रांट स्थित स्टेट डिजास्टर रिस्पांस फोर्स (एसडीआरएफ) बटालियन जौलीग्रांट ट्रेनिंग सेंटर में पहली बार सिविल पुलिस के भर्ती कांस्टेबलों की पासिंग आउट परेड आयोजित की गई. पासिंग आउट परेड में विभिन्न जिलों से आए 171 पुलिस के जवानों ने कठोर ट्रेनिंग के बाद देश रक्षा की शपथ ली। इन जवानों को कठोर ट्रेनिंग में आधुनिक शस्त्र और नई तकनीक के गुर सिखा गए। ट्रेनिंग के दौरान अच्छा प्रदर्शन करने वाले पुलिस के जवानों को सम्मानित भी किया गया।
एसडीआरएफ बटालियन जौलीग्रांट में पुलिस के इन जवानों को 9 माह की ट्रेनिंग के दौरान साहसिक, आपदा प्रबंधन, ट्रैफिक, वीवीआईपी मूवमेंट की ट्रेनिंग दी गई। यह एसडीआरएफ बटालियन जौलीग्रांट में सिविल पुलिस के भर्ती कॉन्स्टेबलों का पहला दीक्षांत समारोह रहा। दीक्षांत समारोह कार्यक्रम में पहुंचे अपर पुलिस महानिदेशक अमित कुमार सिन्हा ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव 2024 और यात्रा सीजन में इन पुलिस जवानों का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि कोई भी आपदा हो या फिर वीवीआईपी मूवमेंट पुलिस के जवान अपनी ड्यूटी बखूबी निभाते हैं। यह नौकरी दूसरी नौकरी से अलग होती है। पुलिस का यह कार्य काफी चुनौतीपूर्ण होता है।
वहीं, एसडीआरएफ के सेनानायक मणिकांत मिश्रा ने कहा कि 9 माह की ट्रेनिंग के बाद प्रदेश को 171 पुलिस के जवान मिले हैं। इन जवानों को 9 महीने की ट्रेनिंग के भीतर यातायात व्यवस्था, साइबर क्राइम, बम निरोधक के साथ-साथ साहसिक ट्रेनिंग भी दी गई। इन पुलिस के जवानों को जिले के विभिन्न थानों में तैनाती भी दे दी गई है। वहीं, ट्रेनिंग के दौरान अच्छा प्रदर्शन करने वाले पुलिस के जवानों को सम्मानित भी किया गया।