*निष्पक्षता और पारदर्शिता होती है पत्रकारिता का मुख्य आईना : डा नवाज़ देवबंदी*, देवबंद में डिस्ट्रिक्ट प्रेस क्लब और देवबंद प्रेस एसोसिएशन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित हुआ कार्यक्रम, जिले भर के पत्रकारों और समाजसेवियों को किया गया सम्मानित

0
140

देवबंद १० मार्च। डिस्ट्रिक्ट प्रेस क्लब सहारनपुर और प्रेस एसोसिएशन देवबंद के संयुक्त तत्वाधान में पत्रकारिता विचार गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें जिले भर से एकत्रित हुए पत्रकारों ने समाज में पत्रकारिता का महत्व और पत्रकारों के कर्तव्यों पर प्रकाश डाला।

रविवार को देवबंद के जामिया तिब्बिया मेडिकल कॉलेज में आयोजित पत्रकारिता विचार गोष्ठी को संबोधित करते हुए अंतर्राष्ट्रीय प्रसिद्ध शायर नवाज़ देवबंदी ने कहा पत्रकारिता एक धर्म है। जिसका उद्देश्य समाज में फैली विकृतियों को समाप्त करना और निष्पक्ष होकर घटनाओं को समाज और सरकार के सामने लाना होता है।‌ उन्होंने कहा पत्रकारिता क्षेत्र में जुड़ने से पहले सभी संगठनों को हर एक पत्रकार के लिए कार्यशाला का आयोजन करना चाहिए ताकि पत्रकारिता का महत्व और उसका कर्तव्य हर पत्रकार के समझ में आ सके। जिला अध्यक्ष सुरेंद्र चौहान ने कहा कि आज का दौर पत्रकारिता क्षेत्र के लिए खतरों से भरा है। लोकतंत्र का चौथा स्तंभ तो पत्रकारों को कहा जाता है लेकिन वह सम्मान आज पत्रकारों को नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने राज्य सरकार से मांग करते हुए कहा कि पत्रकारों की सुरक्षा और उनके परिवारों की समस्याओं को देखते हुए हर राज्य स्तर पर एक कमेटी का गठन जरूरी होना चाहिए। जो समय रहते पत्रकारों की समस्याओं को हल करें और उनकी सुरक्षा व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी को देखें। वरिष्ठ पत्रकार सुनील चौधरी ने कहा कि नवोदित पत्रकारों के लिए जिला-स्तर पर एक कार्यशाला के माध्यम से पत्रकार प्रशिक्षण शिविर आयोजित करना चाहिए जिसमें पत्रकारिता की सभी विधाओं का प्रशिक्षण वरिष्ठ पत्रकारों द्वारा दिया जाना चाहिए। हम लोग कानपुर से कार्यशाला प्रशिक्षण की शुरुआत कर रहे हैं, इसके बाद मुरादाबाद, लखनऊ, अयोध्या, मे प्रशिक्षण शिविर आयोजित किए जाएंगे। नवोदित पत्रकारों को भी अपने वरिष्ठ पत्रकारों का सम्मान करते हुए उनसे सीखना चाहिए ,इसके अलावा सुनील चौधरी ने मांग की कि सभी पत्रकार संगठन अपने-अपने मंच से देश में पत्रकार सुरक्षा कानून लागू किए जाने की मांग को जोर-शोर से उठाएं ताकि लोकसभा चुनावों में सभी राजनैतिक दल हमारी इस मांग को अपने घोषणा पत्र में शामिल करें। देश के सभी राज्यों में पत्रकार पेंशन योजना लागू की गई है लेकिन उत्तर प्रदेश इससे अछूता है 60 साल पूरे कर चुके पत्रकारों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार पत्रकार पेंशन योजना लागू करें। उसके लिए हमें संगठित होकर आवाज उठानी होगी ।कार्यक्रम में बोलते हुए देवबंद प्रेस एसोसिएशन के अध्यक्ष मनोज सिंघल और‌ पत्रकार वजाहत शाह‌ ने कहा कि पत्रकारों को एक संगठन पर आकर अपनी ताकत का एहसास करना चाहिए। कार्यक्रम को जामिया तिब्बिया मेडिकल कॉलेज के अध्यक्ष डॉक्टर अनवर सईद, वरिष्ठ पत्रकार अशरफ उस्मानी, अरविंद टेबक, डा.राकेश गर्ग, श्रवण शर्मा, राजेश्वर शर्मा, अनुप सैनी,सुधीर सोहेल,प्रशांत त्यागी, मनसब अली परवेज समेत अन्य पत्रकारों ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता विश्व प्रसिद्ध शायर डॉक्टर नवाज देवबंदी‌ और संचालन आबाद अली ने किया। कार्यक्रम में मोईन सिद्दीक़ी, आबाद अली, फ़हीम उस्मानी, नौशाद उस्मानी और मुशर्रफ उस्मानी ने जनपद के अन्य स्थानों से आए पत्रकारों को स्मृति चिन्ह देते हुए अतिथियों के माध्यम से सम्मानित कराया। उन्होंने कार्यक्रम में पहुंचने वाले सभी पत्रकारों का आभार प्रकट किया। इस मौके पर अरविंद गुप्ता, जसबीर यादव, शमीम मन्सूरी, जावेद राणा, राव शमीम, आरिफ उस्मानी, फिरोज खान, राजकुमार जाटव, ओमवीर सिंह, ठाकुर नकली सिंह, ओमबीर, अशोक पुंडीर, सहेंद्र पुंडीर, बलवीर सैनी, मुज्मकिर अहमद, नितिन गर्ग, रियाज अहमद, डॉक्टर इश्याक शिबली समेत जिले के समस्त पत्रकार मौजूद रहे।

रिर्पोट : सिद्धार्थ भारद्वाज प्रभारी सहारनपुर मंडल उत्तर प्रदेश।