नफे सिंह राठी हत्या कांड में पूर्व विधायक सहित सात लोगों पर एफआईआर दर्ज, नाराज परिजन व समर्थक कर रहे हैं प्रदर्शन, परिजनों ने कहा जब तक आरोपी गिरफ्तार नहीं होंगे मृतक का दाह संस्कार नहीं होगा

0
106

नई दिल्ली। आईएनएलडी हरियाणा चीफ एवं पूर्व विधायक नफे सिंह राठी की झज्जर जिले के बहादुरगढ़ में ए-20 गाड़ी सवार पांच लोगों ने सरेआम हत्या कर दी थी। जिसमें इनके एक प्राइवेट गार्ड की भी हत्या हो गई थी व दो गार्ड गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

मृतक के पुत्र एवं ड्राइवर के बयान के आधार पर पूर्व विधायक नरेश कौशिक व छह अन्य सहित सात व्यक्तियों पर एफआईआर दर्ज कराई है। पुलिस ने आर्म एक्ट, हत्या व साजिश रचने की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। वैसे चर्चाओं में लोरेंश बिश्नोई गैंग का हाथ बताया जा रहा है तो कोई राजनीतिक साजिश की बात कह रहा है।‌वैसे देखा जाए तो ये हरियाणा पुलिस की भारी चूक हैं। सवाल तो ये भी खड़ा होता है कि जब मृतक राठी ने अपनी जान के खतरे की बात शासन को स्वयं प्रस्तुत होकर अपनी सुरक्षा की मांग पुलिस प्रशासन व मुख्यमंत्री से की थी तो उनको सुरक्षा क्यों नहीं प्रदान की गई ? ये हरियाणा सरकार से यक्ष प्रश्न है। परिजनों व समर्थको द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा है। परिजनों का कहना है कि जब तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होती तब तक दाह संस्कार नहीं किया जायेगा। पुलिस प्रशासन का कहना है कि हमने दो डीएसपी की टीम बनाई है जिसको जांच आदि त्वरित रूप से करने को कहा गया है। टीम ने अपना कार्य शुरू कर दिया है।

रिर्पोट : सिद्धार्थ भारद्वाज प्रभारी दिल्ली, एनसीआर।