प्रधान और उपप्रधान गणतंत्र दिवस समारोह के लिए दिल्ली रवाना

0
98

उत्तरकाशी 24 जनवरी । केंद्र की महत्वाकांक्षी वाइब्रेंट विलेज योजना में शामिल सीमावर्ती गांवों के प्रधानों और उप प्रधानों को दिल्ली में होने वाले गणतंत्र दिवस समारोह के लिए विशेष रूप से आमंत्रित किया गया है। उत्तरकाशी जिले से चयनित आठ गांव के प्रधान व उपप्रधान समारोह में शामिल होने के लिए दिल्ली रवाना हो गए है। ये प्रधान और उपप्रधान अपने परिवार के साथ आईटीबीपी के नेतृत्व में दिल्ली के लिए रवाना हुए हैं। इनमें उत्तरकाशी जिले के आठ गांव जिसमें बगोरी, धराली, हर्षिल, जादूंग, जसपुर, झाला, मुखबा, नेलांग, पुराली व सुक्की के प्रधान शामिल हैं। केंद्र सरकार की ओर से सीमा पर बसे गांवों को आबाद करने समेत वहां विभिन्न गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए वाइब्रेंट विलेज प्रोग्राम का संचालन किया जा रहा है। इसके तहत उत्तराखंड की सीमा पर बसे वाइब्रेंट विलेज के प्रधानों को दिल्ली में लाल किले पर आयोजित होने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह में विशेष मेहमान के तौर पर हिस्सा लेने का आमंत्रण मिला है। उत्तरकाशी जिले में वाइब्रेंट विलेज के प्रधान परिवार 12वीं वाहिनी आईटीबीपी मातली के नेतृत्व में रवाना हुए। हर्षिल गांव के प्रधान दिनेश रावत ने कहा कि अगर उन्हें अवसर मिला तो वो अपने हाथों से पीएम को उपहार भेंट करेंगे। साथ ही जसपुर के प्रधान हरीश राणा ने कहा कि सीमांत गांवों के प्रधानों के लिए यह बड़े सौभाग्य की बात है।